DA Image
23 सितम्बर, 2020|5:11|IST

अगली स्टोरी

पूर्णिया की धरती पर तीन बार पड़े थे प्रणव दा के कदम.

default image

पूर्णिया के लिए प्रणव दा के दिल में विशेष जगह थी। वो तीन बार पूर्णिया आए थे। दो बार कार्यक्रम में हिस्सा लेने और एक बार बंगाल जाने के क्रम में चूनापुर हवाई अड्डा पर उतरे थे। हमेशा उन्होंने पूर्णिया के लिए समय निकाला। एक बार उन्होंने रंगभूमि मैदान से कहा कि जब-जब पूर्णिया के कार्यक्रम या विकास को लेकर मुझसे संपर्क किया गया तब-तब मैंने इस शहर को प्रमुखता दी है।

उनको याद करते हुए शहर के वरिष्ठ अधिवक्ता सह बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष विभाकर सिंह कहते हैं कि प्रणव दा पहली बार 1984 में चुनाव प्रचार के सिलसिले में पूर्णिया आए थे। शहर के दुर्गा बाड़ी में दो बजे कार्यक्रम हुआ था और चार बजे बायसी में कार्यक्रम हुआ। उसके बाद देर शाम वो पूर्णिया के सर्किट हाउस पहुंचे। रात वहां पर विश्राम करने के बाद वो लौट गए। विभाकर सिंह कहते हैं कि 1984 में प्रणव दा से उनकी कार्यक्रम के दौरान पहली मुलाकात हुई थी। उसके बाद दूसरी बार तब मिले जब बंगाल जाने के क्रम में वो 2016 में पूर्णिया के चूनापुर हवाई अड्डा पहुंचे। उनको तब घोर आश्चर्य हुआ जब 36 साल बाद प्रणव दा ने उसे पूछा हाउ आर यू मि. सिंह। दिवाकर सिंह कहते हैं कि प्रणव की याददाश्त कमाल की थी। 36 साल बाद भी न सिर्फ उनका चेहरा बल्कि नाम भी याद था।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता वीके ठाकुर कहते हैं कि प्रणव दा का पूर्णिया के प्रति विशेष लगाव था। जब वो प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव के समय केंद्रीय मंत्री थे तब मुंगेर के डीपी यादव ने पप्पू यादव के सहयोग से पूर्णिया के रंगभूमि मैदान में बंजर उसर भूमि विकास कार्यक्रम का आयोजन किया था। उसमें हिस्सा लेने के लिए प्रणव दा पूर्णिया आए थे। वीके ठाकुर कहते हैं उस कार्यक्रम में उन्होंने भी भूमिका निभाई थी। वो कहते हैं कि इस प्रमंडल में तब पटुआ राजनीति बड़ी हावी थी। रंगभूमि के मंच से प्रणव दा ने कहा था कि जैसे मुझे कहा गया था पूर्णिया आना है, मैं फौरन तैयार हो गया। उन्होंने पप्पू यादव और डीपी सिंह का जिक्र भी किया। आगे उन्होंने कहा कि जब जब पूर्णिया के विकास या कार्यक्रम को लेकर किसी ने मुझसे संपर्क किया तो मैंने उसे प्राथमिकता दी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pranav da 39 s footsteps were lying on Purnia 39 s land three times