DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › पूर्णिया › नवल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी
पूर्णिया

नवल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी

हिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाPublished By: Newswrap
Tue, 26 Jan 2021 04:01 AM
नवल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी

नवल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कर रही छापेमारी

पूर्णिया। हिन्दुस्तान संवाददाता

जय सिंह के भतीजे पर दो साल पहले नवल यादव का भतीजा सौरभ यादव ने गोली चलायी थी । उसके घर पर भी गोली चलायी थी। इस मामले में पहली बार नवल यादव का भतीजा आर्म्स एक्ट के तहत जेल भी गया था। भतीजा की वजह से दोनों के दोस्ती में तल्खी भी आया था। यह लड़ाई कई महीनों तक जारी रही थी । हालांकि बाद में जय सिंह के भतीजा गोलू और सौरभ में दोस्ती हो गई थी और दोनों एक साथ रहने लगा था। इस मामले को लेकर अक्सर कहा सुनी भी हुआ करता था कि जय सिंह के ही वजह से सौरभ पहली बार जिंदगी में जेल गया था। हालांकि बाद में सौरभ की हत्या 31 दिसंबर की शाम को केहाट थाना क्षेत्र के हवाई अड्डा फील्ड के समीप उनके दोस्तों के द्वारा ही पीट पीटकर कर दी गई थी। इसके बाद नवल यादव काफी परेशान रहने लगा था । पुलिस इस घटना को भतीजा से भी जोड़कर देख रही है । पुलिस को ऐसा लगता है कि कहीं नवल यादव अपने भतीजा का बदला लेने के लिए तो इस घटना को अंजाम नहीं दिया है। लेकिन जब तक नवल यादव पुलिस के गिरफ्त में नहीं आ जाता है तब तक इस मामले में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। पुलिस भी उसके गिरफ्तारी तक इस मामले में कुछ भी बोलने से परहेज कर रही है।

.....नवल यादव का मास्टरमाइंड है मनोज यादव

---------------------------------

पुलिस को पूछताछ के क्रम में इस बात का भी पता चला है कि नवल यादव का मास्टरमाइंड मनोज यादव है। उनके ही साथ वह पिछले कई वर्षों से जमीन का भी धंधा कर रहा है। घटना के वक़्त भी मनोज यादव नवल के साथ था और घटना के बाद मनोज यादव मोबाइल को ऑफ कर घर में सो गया था । बताया जाता है कि घटना की रात्रि जब पुलिस की टीम मनोज यादव के घर पर उन्हें गिरफ्तार करने के लिए पहुंची तो वह पीछे के दरवाजे से भागने की फिराक में था । लेकिन पुलिस पहले उनके घर को ही चारों तरफ से घेर लिया था । जैसे ही वह भागने की कोशिश कर रहा था कि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था । बाद में पुलिस को पूछताछ के क्रम में बताया था कि मोबाइल को ऑफ करके सो गया था। और उन्हें लगा था कि जब भी पुलिस आएगी तो पीछे के दरवाजे से भाग जाएगा । हालांकि इस मामले को लेकर पुलिस ने उसे कई घंटों तक पूछताछ किया है और पुलिस उनसे मिले बातचीत के सुराग के आधार पर यादव की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है । पुलिस को इस बात का पता चला है कि अनंत सिंह की नवल यादव की पहले दोस्ती थी। इसी बीच में जमीनी विवाद को लेकर मनमुटाव हुआ था और वह मनमुटाव अभी भी बरकरार था । और घटना के दिन भी वह अनंत सिंह को ही मारने के लिए अपना पिस्टल निकाला था।

अनंत सिंह को से पूछताछ करेगी पुलिस

----------------------------

बताया जाता है कि पुलिस अनंत सिंह से भी इस मामले को लेकर पूछताछ करेगी और उनसे मिले अहम सुराग के आधार पर नवल मनोज और अनंत सिंह के बातों को कड़ी को भी जोड़ कर तफ्तीश करेंगे । हालांकि घटना के बाद से मधुबनी में सन्नाटा पसरा हुआ है। जय सिंह के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है । पूरा परिवार सदमे से नहीं उबर पा रहा है। स्थानीय लोगों और जनप्रतिनिधियों का तांता उनके यहां आना जाना लगा हुआ है । क्रिकेट एसोसिएशन के भी कई सदस्य जय सिंह के घर पर पहुंचकर उनके परिवार को ढाढस बनाने का काम कर रहे हैं । बताया जाता है कि यह रंजिश आगे भी जा सकती है और इस मामले को लेकर स्थानीय लोगों के द्वारा भी दोनों पक्ष को समझाने बुझाने का काम किया जा रहा है। इस संदर्भ में मधुबनी टीओपी प्रभारी नगीना कुमार ने बताया कि नवल यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम के द्वारा ताबड़तोड़ छापेमारी की जा रही है। पुलिस को गुप्त सूचना मिली है उसकी आलोक में भी छापेमारी किया जा रहा है जल्दी नवल यादव की गिरफ्तारी हो जाएगी।

संबंधित खबरें