ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार पूर्णियामहानंदा नदी के कटाव की जद में पहुंचा मस्जिद

महानंदा नदी के कटाव की जद में पहुंचा मस्जिद

...फोटो...8-9 अमौर-बैसा, एक संवाददाता। अमौर प्रखंड से होकर बहने वाली महानंदा नदी के जलस्तर में वृद्धि से इसके तटवर्ती इलाको में कटाव शुरू हो गया है।...

महानंदा नदी के कटाव की जद में पहुंचा मस्जिद
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाMon, 01 Aug 2022 12:11 AM
ऐप पर पढ़ें

अमौर-बैसा, एक संवाददाता।

अमौर प्रखंड से होकर बहने वाली महानंदा नदी के जलस्तर में वृद्धि से इसके तटवर्ती इलाको में कटाव शुरू हो गया है। कुछ दिन पूर्व ही बैसा प्रखंड़ क्षेत्र के सिरसी पंचायत अन्तर्गत काशीबाड़ी के पास नदी की धारा बदलने से इसके किनारे बसे गांव में कटाव होने लगा। अब इसी बदली धारा की जद में सबसे पुराना तेलंगा का जामे मस्जिद आ गया है। मस्जिद के सदर मो. मीर और ईमाम मौलाना मुशाहिद रजा ने बताया कि क्षेत्र का यह सबसे पुराना मस्जिद हस जो लगभग 200 साल पुराना है। इस पुराने मस्जिद की सबसे बड़ी खासियत यह थी कि जब इस क्षेत्र में एक भी मस्जिद नहीं थी तो हरिपुर, ताराबाड़ी आदि से सैकड़ों की संख्या में लोग यहां आकर नमाज अदा करते रहे थे। उन्होंने बताया कि शुरुआती दौर में यह मस्जिद एक फूस के घर मे था जिसके बाद टीन वाली छत का शक्ल दिया। फिर ग्रामीणों के सहयोग से इस मस्जिद की निचली सतह तक पक्का काम किया गया है। हालकि नदी की धारा अभी लगभग 4 फीट दूर है और बांस की बनी झाड़ी से कटाव को रोकने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों का ध्यान इस ओर दिलाते हुए वर्षो से मस्जिद को बचाने के लिए जल्द कटाव निरोधक कार्य की मांग की है।

epaper