DA Image
5 अगस्त, 2020|2:15|IST

अगली स्टोरी

महानंदा खतरे के निशान से उपर

default image

नदियों के जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी है। महानंदा खतरे के निशान से उपर है। परमान और कनकई अभी लाल निशान से नीचे है। नदियों में पानी घट-बढ़ रहा है। तराई व पहाड़ी इलाकों में बारिश के कारण जलस्तर में उतार-चढ़ाव हो रहा है। बायसी के डेंगराहा घाट में महानंदा नदी का डेंजर लेवल 35.650 मीटर है। शुक्रवार सुबह छह बजे नदी का जलस्तर 36.32 मीटर पर था, जो कि शाम छह बजे घटकर 36.27 मीटर दर्ज किया गया। इसी तरह अररिया में परमान नदी का डेंजर लेवल 47.680 मीटर है। सुबह छह बजे यह 47.540 मीटर पर था, जबकि शाम छह बजे यह बढ़कर 47.550 मीटर पर पहुंच गया। चरघरिया में कनकई नदी का डेंजर लेवल 46.940 मीटर है, शाम छह बजे यह 46.75 मीटर पर आ गया। महानंदा में शाम में जलस्तर घटने लगा है। कनकई में भी पानी घट रहा है, जबकि परमान स्थिर है। बाढ़ नियंत्रण विभाग के कार्यपालक अभियंता आरएल महतो ने बताया कि महानंदा खतरे से उपर है, परमान और कनकई अभी लाल निशान से नीचे है। तराई व पहाड़ी इलाकों में बारिश के कारण नदियों में दस सेंटीमीटर का उतार-चढ़ाव हो रहा है। खतरे वाली बात नहीं है। बाढ़ नियंत्रण विभाग चौकस है। पूरी सावधानी और निगरानी बरती जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mahananda is above the danger mark