DA Image
7 सितम्बर, 2020|9:09|IST

अगली स्टोरी

जीविका कैडर संघ ने किया पुतला दहन.

default image

बिहार प्रदेश जीविका कैडर संघ ने अपनी 10 सूत्री मांगों के समर्थन में चांदपुर भंगहा स्थित निर्मल दरबार में हड़ताल के 38वें दिन मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। संघ के जिला महासचिव विनेश कुमार ने इस कार्यक्रम को सफल बताते हुए कहा कि महिला परियोजना को सरकार ने सिर्फ वोट बैंक की परियोजना में बदल कर रख दिया है। जीविका परियोजना में महिला सशक्तिकरण के बजाय महिलाओं से हजार दो हजार में काम करवा कर शोषण किया जा रहा है। कोरानाकाल में भी सरकार द्वारा जीविका के कर्मियों, कैडरों और दीदियों के साथ सौतेला व्यवहार किया गया। जिसके कारण कर्मियों, कैडरों और जीविका दीदियों में घोर निराश निराशा व्याप्त है। यही वजह है कि संघ को 50 लाख का बीमा सहित अपनी 10 सूत्री मांगों के समर्थन में हड़ताल करने का निर्णय लेना पड़ा। वही संघ के प्रखंड महासचिव सचिन्द्र देव ने कहा कि नितीश कुमार की रैलियों जीविका दीदियों का सिर्फ भीड़ लगवाना महिला सशक्तिकरण नहीं है। कार्यक्रम में संघ के बनमनखी प्रखंड के महासचिव सचिन्द्रदेव, मीडिया प्रभारी चंदन कुमार, दिलशंकर कुमार, रंजीत कुमार, कलानंद पासवान, जितेंद्र कुमार, आनंद कुमार झा, ममता देवी, कंचन कुमारी, बबिता देवी, सुनीता देवी, मोनिका देवी आदि उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jeevika cadre association burnt effigy