DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  पूर्णिया  ›  स्थानांतरण प्रक्रिया की जटिल शर्तों को शिथिल करने की मांग
पूर्णिया

स्थानांतरण प्रक्रिया की जटिल शर्तों को शिथिल करने की मांग

हिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाPublished By: Newswrap
Tue, 15 Jun 2021 05:20 AM
स्थानांतरण प्रक्रिया की जटिल शर्तों को शिथिल करने की मांग

पूर्णिया।बिहार राज्य प्रारंभिक शक्षिक संघ जिला मीडिया प्रभारी दीपक सिंह भदौरिया ने कहा है कि लंबे समय से तबादले का इंतजार कर रहे शक्षिकों को स्थानांतरण का अधिसूचना जारी होने के बाद भी निराशा ही हाथ लगी है। स्थानांतरण के लिए जो प्रक्रिया अपनायी गयी, वह काफी जटिल है। इससे चाह कर भी स्थानांतरण की चाह रखने वाले शक्षिकों को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा। स्थानांतरण के लिए प्रमाण पत्रों की जांच को अनिवार्य बताया गया है।अधिसूचना के अनुसार निगरानी जांच में सही पाए जाने वाले शक्षिक ही स्थानांतरण के पात्र होंगे, जबकि शक्षिकों को यह जानकारी ही नहीं है कि उनके प्रमाण पत्रों की जांच हुई है अथवा नहीं। स्थानांतरण में रक्तिि का पेच भी फंसा हुआ है। छठे चरण के नियोजन तक के लिए वज्ञिप्ति पदों को स्थानांतरण से बाहर रखा गया है। साथ ही अपने संवर्ग और कोटि को स्थानांतरण का आधार बनाया गया है। अधिकांश शक्षिक इन शर्तों को पूरा नहीं कर पाएगा। वहीं दूसरी ओर दव्यिांग कैटेगरी का लाभ केवल वही उठा पाएंगे, जिनकी बहाली दव्यिांग कोटि में हुई थी। सेवा के दौरान अपंगता से दव्यिांग शक्षिक को इसका लाभ नहीं मिल पाएगा। निलंबित हुए एवं अप्रशक्षिति शक्षिकों को इस स्थानांतरण प्रक्रिया से बाहर रखा गया है। उन्होंने संघ की ओर से सरकार से मांग की है कि इस जटिल शर्तों को शिथिल करते हुए स्थानांतरण के लिए शक्षिकों को खुला अवसर प्रदान किया जाए।

संबंधित खबरें