DA Image
22 सितम्बर, 2020|6:31|IST

अगली स्टोरी

बीडीओ को आवेदन दिया.

default image

गढ़बनैली। एक संवाददाता कसबा प्रखंड के गुरही पंचायत के अर्जीना खातून, जहूरा खातून ,जुबेदा खातून ,सकीना खातून आदि गरीब महिला सभी साकिन ग्राम पंचायत गुरही वार्ड नंबर 13 के 2017 में बीपीएल के लिए आवेदन आंनलाइनअनुमंडल पदाधिकारी को दिया था,किन्तु अब तक इन सभी पीड़ित परिवारों को बीपीएल का कार्ड नहीं मिला है।सभी पीड़ित महिलाओं ने प्रखंड के बीडीओ से बीपीएल कार्ड देने की मांग के साथ आवेदन भी दिया।इन सभी महिलाओं को 2008 से लेकर 2017 तक डीलर के द्वारा राशन पूर्व के लाल कार्ड पर दी जाती थी,लेकिन अब इन सभी लाभार्थियों को पूर्व के सूची से निकाल दिया है।पूर्व में बनाए गए बीपीएल सूची में नाम से वंचित कर देने से लगभग सैकड़ो ग़रीब परिवार दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर है।वही अर्जीना खातून बताती है कि इस कोरोना लॉक डाउन में उसके गाँव की जीविका ने बीपीएल बनाने के लिए पत्येक ग़रीब परिवारों से बीपीएल में नाम चढ़ा देने की बात कह कर वसूली भी किया,लेकिन जब इनसभी गरीब महिला अपना नाम सूची में नहीं देख कर दर दर भटकती रहीऔर रोज प्रखंड कार्यालय का चक्कर काटती रहती है।,इस कोरोना महामारी में भी वह प्रखंड मुख्यालय के बरामदे में रोज आकर अपना हक मांगती रहती है। आवेदन देने के बाद भी वह प्रखंड मुख्यालय आना नहीं छोड़ी है।