DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  पूर्णिया  ›  बदल गयी सीरत, नहीं बदली सूरत
पूर्णिया

बदल गयी सीरत, नहीं बदली सूरत

हिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाPublished By: Newswrap
Sat, 19 Jun 2021 05:20 AM
बदल गयी सीरत, नहीं बदली सूरत

भवानीपुर। एक संवाददाता

भवानीपुर प्रखंड मुख्यालय को नगर पंचायत का दर्जा अवश्य मिल गया है, परन्तु बाजार की स्थिति अभी भी नारकीय बनी हुई है। हालांकि नगर पंचायत की पहचान मिलने के बाद भवानीपुर बाजार में पूर्णिया नगर निगम के आयुक्त के द्वारा मास्क का वितरण भी करवाया गया था, लेकिन इस मौसम में यहां जलजमाव की समस्या से निजात दिलाने की दरकार है। इस समय जलजमाव भवानीपुर की पहचान बन गयी है। पहले से जलजमाव की विकराल समस्या से जूझ रहे भवानीपुर बाजार की स्थिति काफी बदतर है। बाजार में जमे पानी की वजह से लोगों का अपने घरों से निकलना दूभर हो गया है, जबकि पहले से जमे पानी के सड़ने की वजह से उठ रहा सरांध वातावरण में फैला हुआ है। कई बार लगातार आवाज उठाने के बावजूद जल जमाव की इस विकराल समस्या से लोगों को निजात नहीं मिल रही है।

सामूहिक सहयोग से निकाला था जमा पानी

पिछले दिनों बाजार वासियों के द्वारा सामूहिक रूप से चंदा इकठ्ठा कर बाजार में जमे पानी को निकलवाने का काम किया गया था। लेकिन उसके बाद फिर हुए लगातार मुसलाधार बारिश से बाजार में जलजमाव की विकराल समस्या उत्पन्न हो गई है। परन्तु लगातार आवाज उठाये जाने के बावजूद इस विकराल समस्या का स्थाई निदान नहीं निकल पाया है। बाजार में जमे पानी के वजह से भवानीपुर बाजार में मौसमी बीमारी का असर काफी ज्यादा बढ़ता जा रहा है। बीते बर्ष भवानीपुर बाजार में डेंगू ने यहां काफी लोगों को बीमार कर दिया था।

कहते हैं लोग

भवानीपुर बाजार के व्यवसायी आनंद यादुका, सुशांत कुमार, महेश यादुका, नवनीत यादुका, जय नारायण स्वर्णकार, दीपक स्वर्णकार, दीपक भगत, बिनय केडिया, महेश केडिया, बरिष्ट जाप नेता बिमल यादुका, विकास कुमार उर्फ़ विक्की भगत, युवा कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष मिकाइल रजा, उप मुखिया अरविन्द पासवान, पूर्व समिति पवन कुमार पासवान, समिति सदस्य पवन ठाकुर आदि ने कहा कि जल माव की समस्या से बाजार वासी लगातार जूझ रहे हैं। लोगों ने कहा कि लगातार मांग के बावजूद जल निकासी की समस्या के स्थायी निदान की तरफ ना तो कोई जनप्रतिनिधि ध्यान दे रहे हैं और ना ही प्रशासनिक अधिकारी के द्वारा इस तरफ ध्यान दिया जा रहा है। क्षेत्र वासियों ने जल जमाव की समस्या से जल्द निदान की मांग की है।

बोले अधिकारी

नगर पंचायत में विकास कार्यो की शुरुआत कर दी गई है। वैकल्पिक व्यवस्था के तहत साफ-सफाई का काम करवाया गया है। जल निकासी के लिए माइक्रो प्लान बनवाया जायेगा। वर्तमान समय में नगर निगम को अपना इंजिनियर नहीं है। जल निकासी के लिए मास्टर प्लान बनवा कर काम करवाया जायेगा। पब्लिक के अपेक्षाओं के अनुरूप काम कराया जायेगा। -जिउत सिंह, नगर आयुक्त, पूर्णिया

संबंधित खबरें