ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार पूर्णियाआदेश के बाद भी आंगनबाड़ी केन्द्रों को नहीं मिली पोषाहार की राशि

आदेश के बाद भी आंगनबाड़ी केन्द्रों को नहीं मिली पोषाहार की राशि

बनमनखी, संवाद सूत्र। बनमनखी, संवाद सूत्र। विभागीय आदेश के बाद भी आंगनबाड़ी केन्द्रों को पोषाहार की राशि नहीं मिली। जिससे प्रखंड में हड़ताल से अलग...

आदेश के बाद भी आंगनबाड़ी केन्द्रों को नहीं मिली पोषाहार की राशि
हिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाWed, 01 Nov 2023 12:46 AM
ऐप पर पढ़ें

बनमनखी, संवाद सूत्र।
विभागीय आदेश के बाद भी आंगनबाड़ी केन्द्रों को पोषाहार की राशि नहीं मिली। जिससे प्रखंड में हड़ताल से अलग लगभग 245 आंगनबाड़ी केन्द्रों के अक्टूबर महीने में वितरण होने वाले टीएचआर पर अब ग्रहण लगता दिख रहा है। साथ ही कई आंगनबाड़ी केन्द्रों के बच्चों को मिलने वाले पूरक पोषाहार से वंचित होने की स्थिति बन गई है। इतना ही नहीं टीएचआर एवं पोषाहार राशि नहीं दिए जाने के कारण हड़ताल से अलग रहकर केन्द्र संचालित कर रही सेविका एवं सहायिकाओं का भी मनोबल टूटा है। गौरतलब है कि आईसीडीएस की ओर से 27 अक्टूबर को एक पत्र जारी कर राज्य के सभी 544 बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों को पूरक पोषाहार टीएचआर मद की अक्टूबर महीने की लिमिट राशि हड़ताल से अलग रह रही सेविका-सहायिकाओं के आंगनबाड़ी केन्द्रों को अविलम्ब उपलब्ध कराने का स्पष्ट निर्देश दिया है। इसके लिए सभी सीडीपीओ की व्यक्तिगत जबावदेही भी दी गई है। विभागीय आदेश पर बनमनखी सीडीपीओ ने कुण्डली मार ली। जिससे राशि उपलब्ध होने के बाद भी हड़ताल से अलग आंगनबाड़ी केन्द्रों के लाभार्थियों को अक्टूबर महीने के लाभ से वंचित होने की नौबत आ गई है। इस बाबत जिला प्रोग्राम पदाधिकारी रीना श्रीवास्तव ने कहा कि दरअसल देर से राशि प्राप्त होने के कारण आंगनबाड़ी केन्द्रों को आवंटन नहीं भेजा जा सका है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।