DA Image
25 जनवरी, 2020|2:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

होमगार्ड के लिए एक नई सुबह की शुरुआत होगी : डीजी.

default image

डीजी होमगार्ड व अग्निशमन राकेश कुमार मिश्र गुरुवार को पूर्णिया पहुंचे। उन्होंने गृह रक्षा वाहिनी के कार्यालय परिसर में जिले के गृहरक्षकों और अग्निशमन कर्मचारियों के साथ संवाद किया। इस दौरान उन्होंने गृहरक्षकों और अग्निशमन कर्मचारियों की समस्याएं सुनी और जल्द से उनके सभी समस्याओं के समाधान का अश्वासन दिया। सभी दोनों विभाग के कर्मचारियों को एक बल-एक मन के नजरिये से काम करने को प्रेरित किया। डीजी ने कहा कि बल की अभी कई समस्याएं हैं। प्रमुख समस्याओं में से एक वेतन निकासी, रहने की जगह, बिजली पानी और गाड़ियों की समस्याएं दूर की जाएगी। डीजी ने सभी गृहरक्षकों से कहा कि आपको अपना काम ईमानदारी से करना होगा, तभी होमगार्ड की प्रतिष्ठा है। डीजी ने कहा कि संगठन की संरचना को सुदृढ़ किया जा रहा है ताकि गृहरक्षकों की समस्याओं का हल निकाला जा सके। डीजी ने कहा कि मेरा उद्देश्य है कि होमगार्ड के व्यवस्था में परिवर्तन की सख्त जरुरत है। उनके पहनावे, ड्यूटी आदि में मोटिवेशनल पुश चाहिए। उनके साथ लगातार संवाद स्थापित करने की आवश्यकता है। उनकी समस्या पर अगर समग्रता से विचार किया जाए तो समाधान निकल सकता है। होमगार्ड के लिए एक नई सुबह की शुरुआत होगी। इसके लिए सरकार अग्रेसर है। प्रयास किया जा रहा है। हमारे होमगार्ड काफी ऊर्जावान है। छोटी- मोटी कमियों को दूर करते हुए आगे बढ़ेंगे और भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग लड़ेंगे। डीजी ने बताया कि पूरे देश में बिहार सरकार द्वारा होमगार्डों को अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाई गयी है। अन्य राज्यों की अपेक्षा बिहार के गृहरक्षकों की स्थिति काफी बेहतर है। डीजी ने कहा कि फरवरी से गृहरक्षा वाहिनी के जवानों को भी अत्याधुनिक हथियारों एसएलआर की ट्रेनिंग दी जाएगी। मौके पर पूर्णिया एसपी विशाल शर्मा, प्रशिक्षु आईपीएस प्रमोद कुमार, गृहरक्षा वाहिनी के पदाधिकारी संदीप कुमार, फायर ऑफिसर आरके यादव समेत दर्जन पदाधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे।

जल्द से जल्द करें गृहरक्षकों का वेतन अपडेट

डीजी ने कहा कि सभी गृहरक्षकों का वेतन का भुगतान 31 जनवरी कर दिया जाएगा। गृह रक्षा वाहिनी के एक कर्मचारी को उन्होंने सख्त निर्देश दिया कि जबतक पूर्णिया के सभी होमगार्ड का वेतन अपडेट नहीं होता है तबतक इनका भी वेतन रोक दिया जाए। डीजी ने कहा कि गृहरक्षकों को सेवानिवृत्ति के 15 दिनों के अंदर डेढ़ लाख और सेवा के दौरान मृत्यु होने पर चार लाख की राशि भी 10 दिनों के अंदर दिया जाएगा। साथ ही महीने की एक तारीख को मानदेय भी मिलेगा। इसके लिए अब आवंटन का लफड़ा नहीं है। इसके लिए आश्रितों को जरूरी कागजात समय पर गृहरक्षा वाहिनी के कार्यालय को उपलब्ध कराना होगा।

गृहरक्षकों की सेवा नियमावली को बनाया गया सरल

डीजी ने कहा कि गृहरक्षकों की सेवा और रिटायरमेंट नियमावली को पहले की अपेक्षा काफी सरल बना दिया गया है। इसके अलावा होमगार्ड जवानों की समस्या के समाधान के लिए ब्लॉक स्तर पर संगठन को पुनर्गठित किया गया है। ब्लॉक स्तर पर कंपनी का गठन किया जा रहा है। प्लाटून कमांडर समस्यों की जानकारी सेक्शन कमांडर से करेंगे। सेक्शन कमांडर इसकी जानकारी कंपनी कमांडर को देंगे ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A new dawn will begin for homeguards D G