अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेजस्वी पहले अपना राजनीतिक कद देख लें : संजय

प्रदेश जदयू के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खुली बहस की चुनौती देने के पहले राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव अपना राजनीतिक कद देख लें। आरक्षण जैसे संवेदनशील मसले पर खुली बहस की चुनौती देना केवल उनका बड़बोलापन है।

आरोप लगाया कि तेजस्वी यादव 70 फीसदी आरक्षण का लॉलीपॉप दिखाकर लोगों को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। देश के संविधान द्वारा लागू आरक्षण व्यवस्था का तथ्य सबको मालूम है। सामाजिक न्याय का चोला पहनकर वे लोग कब तक समाज के कमजोर तबके को छलते रहेंगे? नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार सरकार आरक्षण नियमों का पालन करती है। नीतीश कुमार देश के ऐसे पहले सीएम हैं, जिन्होंने बिहार में अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा, अतिपिछड़ा,अल्पसंख्यक और सवर्णों के लिए समभाव रखा है। यहां तक कि महिला और छात्राओं को भी अलग से आरक्षण और अन्य सुविधाएं दी है। अगर तेजस्वी यादव आरक्षण के हिमायती हैं तो पार्टी के महत्वपूर्ण पदों की जिम्मेवारी किसी दलित को क्यों नहीं देते? खुली बहस की इच्छा है तो बेनामी संपत्ति और भ्रष्टाचार पर बहस को सामने आइए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tejaswi yadav check its political outfit