अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिजल्ट सुधरवाने बेमियादी भूख हड़ताल पर बैठे छात्र

बिहार बोर्ड के इंटर रिजल्ट जारी होने के नौवें दिन भी छात्र-छात्राओं का विरोध प्रदर्शन जारी है। हंगामा, नारेबाजी, सड़क जाम से भी जब बोर्ड प्रशासन ने बात नहीं सूनी तो छात्र अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गए हैं। इससे नाराज छात्र गुरुवार की सुबह 10 बजे इंटर काउंसिल के गेट के पास भूख हड़ताल पर बैठ गए।

जन अधिकार छात्र परिषद के बैनर तले छात्र उत्तरपुस्तिकाओं को बोर्ड वेबसाइट पर ऑनलाइन करने की मांग कर रहे हैं। इसके अलावा फेल हुए छात्र की कॉपियों की नि:शुल्क मूल्यांकन, इंजीनियरिंग और दूसरी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल छात्रों को एक सप्ताह के अंदर रिजल्ट देने की मांग भी कर रहे हैं। वहीं, गुरुवार को भी सैकड़ों विद्यार्थी इंटर काउंसिल पहुंचे। कटिहार जिले से आए छात्र आदित्य कुमार ने बताया कि स्क्रूटनी के लिए आवेदन नहीं हो पा रहा है। समस्तीपुर के अन्नू भारती ने बताया कि वह गणित का छात्र है और उसे बॉयोलॉजी का रिजल्ट दिया गया है। बॉयोलॉजी में उसे अनुपस्थित कर दिया गया है। 70 की जगह 100 रुपए हो रहे खर्च छात्रों को स्क्रूटनी के लिए मोबाइल का विकल्प नहीं दिया गया है। छात्रों को कंप्यूटर से ही स्क्रूटनी का आवेदन करना है। इसके लिए छात्र साइबर कैफे जाने को मजबूर हैं। साइबर कैफे वाले भी चांदी काट रहे हैं। एक आवेदन करने के लिए साइबर कैफे वाले 30 रुपए वसूल रहे हैं। छात्र कुंदन कुमार ने बताया कि प्रति विषय सौ रुपए खर्च हो रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Students sitting on hunger strike