अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस कॉलेज की प्रिंसिपल ने इस्तीफा दिया तो छात्राएं सड़क पर उतर गयीं

मगध महिला कॉलेज की पूर्व प्राचार्या प्रो. शशि शर्मा के समर्थन में शुक्रवार को कॉलेज की छात्राओं ने आक्रोश मार्च निकाला। उमस भरी गर्मी में कॉलेज की छात्राएं वी वांट शशि मैम का नारा लगाते मगध महिला कॉलेज से पीयू विवि गेट पर पहुंची और वहां धरने पर बैठ गईं। छात्राएं प्रो शशि शर्मा को दोबारा प्राचार्य बनाने की मांग पर अड़ी हैं। बाद में कुलपति से छात्रों के प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की लेकिन देर शाम तक विवि प्रशासन अपने निर्णय पर कायम रहा। इधर, प्रो. शशि शर्मा के इस्तीफा वापसी से जुड़ा पत्र विवि प्रशासन को भेजा है जिससे मामले में नाटकीय मोड़ आ गया है। 
इससे पहले शुक्रवार की सुबह मगध महिला कॉलेज की छात्राओं के प्रदर्शन की सूचना मिलते ही गांधी मैदान थाने की पुलिस मगध महिला कॉलेज गेट पर पहुंची लेकिन छात्राएं नहीं मानी। वी वांट जस्टिस के नारे से अशोक राजपथ और पटना विश्वविद्यालय गूंज उठा। छात्राएं विश्वविद्यालय गेट पर ही बैठ गईं। प्रॉक्टर ने छात्राओं को समझाने की कोशिश की लेकिन वे कुलपति से मिलने पर अड़ी रहीं।  छात्राओं ने पूर्व प्राचार्य के समर्थन में और कुलपति के विरोध में जमकर नारेबाजी की।  आधे घंटे तक विरोध-प्रदर्शन के बाद कुलपति ने कॉलेज की एक प्रतिनिधिमंडल को मिलने के लिए बुलाया। प्रतिनिधि मंडल में शामिल पुसु छात्र संघ की पूर्व उपाध्यक्ष योषिता पटवर्द्धन ने बताया कि विवि प्रशासन ने  कहा है कि छात्राओं की मांग के बारे में राजभवन को सूचित कर दिया गया है। विवि प्रशासन ने राजभवन के निर्देशों पर अमल की बात कही हैं।   

प्रो. शशि शर्मा ने इस्तीफा वापसी का पत्र लिखा : इधर नाटकीय घटनाक्रम में शुक्रवार की सुबह प्रो. शशि शर्मा ने अपना इस्तीफा वापस लेने से जुड़ा पत्र भी पटना विवि प्रशासन को भेज दिया। रजिस्ट्रार कर्नल मनोज मिश्रा ने इसकी पुष्टि की है। इस्तीफा वापसी के पत्र की बाबत पूछे जाने पर प्रो. शशि शर्मा ने कहा कि उन्होंने राजभवन के निर्देशों का पालन किया है। राजभवन से इस्तीफा वापस लेने के निर्देश उन्हें मिले थे। इधर पूरे मामले में कॉलेज की छात्राओं का कहना है कि प्रताड़ना से तंग आकर प्राचार्य ने इस्तीफा दिया। कॉलेज के विकास कार्य इससे प्रभावित होंगे। प्राचार्या के समर्थन में छात्र राजद के नेता राहुल कुमार, पुसू के पूर्व उपाध्यक्ष अंशुमान कुमार, अनुपमा सिंह, नीलिमा, सौम्या आर्या, पूजा टिया, आयशा सहित अन्य छात्राएं नारेबाजी करती रहीं। 

क्या है मामला : 07 अक्टूबर 2013 को डॉ. शशि शर्मा को पटना विवि प्रशासन ने राजनीति विज्ञान विभाग में प्रोफेसर के पद पर प्रोन्नति दी। डॉ. शर्मा को 22 दिसंबर 1994 की तिथि से मेरिट प्रमोशन स्कीम के तहत प्रमोशन दिया गया था। बाद में हाईकोर्ट गए एक मामले में इन प्रोन्नतियों को रिव्यू करने का निर्देश दिया गया। रिव्यू करने के लिए बनी सेलेक्शन कमेटी ने डॉ. शशि शर्मा के मेरिट प्रमोशन को रद्द करने की सिफारिश की थी। इसके बाद पीयू सिंडिकेट ने 30 जून 2018 को  सेलेक्शन कमेटी की सिफारिश को मानते हुए डॉ. शर्मा की प्रोन्नति को रद्द कर दिया है। इसी के तहत 9 जुलाई को उनकी पदावनति की अधिसूचना जारी की गई। पदावनति से नाराज प्राचार्या ने विवि प्रशासन को अपना त्याग पत्र यह कहकर दे दिया कि उन्हें साथ जातिगत भेदभाव किया जा रहा है। अब जब विवि प्रशासन ने इस्तीफा मंजूर कर लिया है तो ऐसे में प्रो. शशि शर्मा द्वारा इस्तीफा वापसी से जुडा़ पत्र विवि प्रशासन को भेजे जाने से मामला दिलचस्प हो गया है। छात्राओं के मिले समर्थन से विवि प्रशासन भी पसोपेश में है। 

शशि शर्मा ने इस्तीफा वापस लेने की पेशकश की : मगध महिला कॉलेज प्राचार्य पद से इस्तीफा देनेवाली शशि शर्मा शुक्रवार को अपना इस्तीफा वापस लेने की पेशकश विश्वविद्यालय से की, लेकिन विश्वविद्यालय ने पेशकश को अस्वीकार कर दिया। शशि शर्मा ने अपने पत्र में लिखा है कि चूंकि उनका मामला कुलाधिपति के यहां लंबित है। ऐसे में वे अपना इस्तीफा वापस लेना चाहती हैं। जानकारी के मुताबिक शशि शर्मा के इस प्रस्ताव पर कुलपति प्रो. रासबिहारी सिंह ने सिंडिकेट सदस्यों के साथ एक आपात बैठक अपने आवास स्थित कार्यालय में की, जिसमें उनकी पेशकश पर विचार किया गया। रजिस्ट्रार कर्नल मनोज मिश्रा ने बताया कि विश्वविद्यालय ने शशि शर्मा को कहा है कि चूंकि उनका मामला अब राज्यपाल-सह-कुलाधिपति के यहां लंबित है। ऐसे में कुलाधिपति का फैसला आने तक प्रो. बीना रानी ही प्राचार्य रहेंगी। शशि शर्मा ने खुद का प्रमोशन रद्द करने के खिलाफ कुलाधिपति-सह-राज्यपाल के यहां अपील की है। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Students of Magadh mahila college demanding to make Shashi Sharma the principal of college