DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार पटनासंपत्ति के लिए प्रताड़ित करने वाले बेटे हुए बेदखल

संपत्ति के लिए प्रताड़ित करने वाले बेटे हुए बेदखल

हिन्दुस्तान टीम,पटनाNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 05:10 PM
संपत्ति के लिए प्रताड़ित करने वाले बेटे हुए बेदखल

एक बेटा दारोगा, दूसरा कंपनी में कार्यरत, संपत्ति के लिए करते थे गाली-गलौज

राजधानी में संपत्ति के लिए बुजुर्ग माता-पिता को प्रताड़ित करना बेटों और बहुओं को भारी पड़ गया। अनुमंडल पदाधिकारी सह भरण-पोषण अधिकरण ने आदेश जारी कर बेटों को संपत्ति से बेदखल करने का आदेश दिया है।

बहादुरपुर थाने के न्यू कुंज निवासी रामजी सिंह ने अपने दो बेटों अरुण कुमार सिंह, अरविन्द कुमार सिंह और उनकी पत्नियों पर संपत्ति के लिए गाली-गलौज और मारपीट का आरोप लगाया था। बेटा अरविन्द गया के परैया थाने में दारोगा है। अरुण कुमार एक कंपनी में कार्यरत है। सभी लोग उनके द्वारा बनाये गये मकान में रहते हैं और भरण-पोषण भी नहीं करते हैं। बुजुर्ग रामजी सिंह बीएमपी से रिटायर हैं। उनका कहना है कि उनकी पत्नी कैंसर और रक्तचाप से पीड़ित हैं। अपने बेटों और बहुओं से परेशान बुजुर्ग ने छह महीने पहले अनुमंडल पदाधिकारी सह भरण-पोषण अधिकरण में माता-पिता एवं वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007 के तहत आवेदन किया था। सुनवाई में बेटे अपने पक्ष में सबूत पेश नहीं कर पाये। छह महीने के बाद कोर्ट ने फैसला सुनाया है। फैसले के अनुसार बुजुर्ग रामजी ने अपनी कमाई से संपत्ति अर्जित की है। वे अपनी मर्जी से संपत्ति किसी को भी दे सकते हैं। दोनों बेटों को संपत्ति से बेदखल कर दिया गया।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें