DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मार्ट अलर्ट: अब वेबमेल पर हैकरों की नजर

माइक्रोसॉफ्ट ने सुरक्षा के दृष्टिकोण से अपने उपभोक्ताओं को सतर्क किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी ने संभावना जताई है कि उनके वेबमेल उपभोक्ताओं के अकाउंट को गैरकानूनी तरह से हैक किया जा सकता है। कंपनी ने जारी किए नोटिफिकेशन में बताया कि कुछ साइबर अपराधियों की नजर कुछ वेबमेल उपयोगकर्ताओं के अकाउंट्स पर है। 

बताया गया कि 1 जनवरी से 28 मार्च के बीच कंपनी के कुछ सपोर्ट एजेंट्स को इन अकाउंट्स के बारे में जानकारी दी गई थी, जिनकी विश्वसनीयता पूरी तरह से पुख्ता नहीं है। इसलिए यह भी संभावना है कि उन्हें लोगों के अकाउंट से संबंधित जानकारियां भी दे दी गई हों, जैसे कि ईमेल पता, फोल्डर नाम और ईमेल से संबंधित अन्य जानकारियां। इसके अलावा माइक्रोसॉफ्ट ने इस पर खेद जताते हुए प्रभावित उपयोगकर्ताओं को अपना पासवर्ड रीसेट करने की सलाह दी है। 

हालांकि कंपनी ने यह भी कहा कि ई-मेल में संलग्न दस्तावेजों को पढ़ा या देखा नहीं जा सकेगा। हालांकि यह भी पता चला है कि कंपनी ने इस दिशा में सक्षम कदम उठाते हुए किसी गलत इरादों को नाकाम करने की तैयारी कर ली है। कंपनी ने अपने डाटा सुरक्षा अधिकारी से इस बारे में पूरी जानकारी जुटाने को कहा है। 

भारत में ऐसे मामले अधिक
भारत में डेटा प्रोटेक्शन को लेकर अब युद्धस्तर पर काम जरूर हो रहे हैं, पर एक अध्ययन के अनुसार, भारत में कंपनियों ने पिछले साल औसतन 3.31 टेराबाइट्स, जिसकी कीमत 1,287,788 डॉलर थी, डाटा खो दिया। ग्लोबल डाटा प्रोटेक्शन इंडेक्स के मुताबिक दुनिया भर में 75 प्रतिशत की तुलना में लगभग 85 प्रतिशत भारतीय कंपनियां कम से कम दो डाटा सुरक्षा विक्रेताओं का उपयोग कर रही हैं।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Smart Alert Hackers eye on webmail now