RLSP postponed election of state president due to lack of consensus - सर्वसम्मति नहीं बनने से रालोसपा प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव टला DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्वसम्मति नहीं बनने से रालोसपा प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव टला

सर्वसम्मति नहीं बनने से रालोसपा प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव टला

सर्वसम्मति नहीं बनने के कारण रालोपा के प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव टल गया। अब प्रदेश अध्यक्ष का फैसला पार्टी प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा करेंगे। पार्टी के दो नेताओं द्वारा इस पद के लिए दावेदारी ठोकने के कारण यह स्थिति आई।

इसी बीच चुनाव केन्द्र से बाहर मीडिया से बात करते हुए उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि नवादा और औरंगाबाद जिले के देवकुड में केन्द्रीय विद्यालय नहीं खुला तो वह आमरण अनशन करेंगे। कहा कि दोनों विद्यालयों का प्रस्ताव उन्होंने मंत्री पद रहते ही पास कराया था। लेकिन केन्द्र ने अब तक वहां केन्द्रीय विद्यालय नहीं खोले।

रालोसपा प्रदेश अध्यक्ष का चुनाव शनिवार को विद्यापति भवन में होना था। पार्टी के सभी निर्वाचित प्रतिनिधि चुनाव में हिस्सा लेने के लिए पहुंच गये। सबको उम्मीद थी चुनाव निर्विरोध हो जाएगा। लेकिन, वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी के नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद प्रधान महासचिव सत्यानंद दांगी ने भी इस पद के लिए नामांकन कर दिया। ऐसे में मतदान की स्थिति उत्पन्न हो गई, लेकिन सभा ने सर्वसम्मति से यह प्रस्ताव पारित कर दिया कि अब इस पद का फैसला पार्टी प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा करेंगे। श्री कुशवाहा ने कहा कि वह जल्द इसका फैसला लेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:RLSP postponed election of state president due to lack of consensus

'हिन्दुस्तान स्मार्ट' अख़बार की कॉपी पाने के लिए, नीचे दिए फॉर्म को भरे

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी किसी से साझा नहीं की जाएगी व केवल हिन्दुस्तान अख़बार द्वारा आपसे संपर्क करने के लिए इस्तमाल की जाएगी।