DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार पटनाखुलासा : 76 आर्म्ड जीपी जम्मू सांबा में नायक पद पर तैनात था वाल्मीकि ठाकुर

खुलासा : 76 आर्म्ड जीपी जम्मू सांबा में नायक पद पर तैनात था वाल्मीकि ठाकुर

हिन्दुस्तान टीम,पटनाNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 09:20 PM
खुलासा : 76 आर्म्ड जीपी जम्मू सांबा में नायक पद पर तैनात था वाल्मीकि ठाकुर

एटीएम काटने के आरोप में गिरफ्तार बाल्मिकी ठाकुर 76 आर्म्ड जीपी जम्मू सांबा में नायक के पद पर तैनात रहा है। वो मूलरूप से धनहां तिवारी टोला, पोस्ट- बेला मलाही परिहार, थाना बेला, जिला सीतामढ़ी का रहनेवाला है। सेना से यह जानकारी पत्रकारनगर थाने की पुलिस को मिली है। वहीं आर्मी के अधिकारियों ने भी पत्रकारनगर थाने की पुलिस से आर्मी जवान बाल्मीकि ठाकुर के कारनामों का पूरा ब्योरा मांगा है। वहीं पत्रकारनगर थाने की पुलिस ने वाल्मीकि ठाकुर के साथ उसके साले समेत तीनों आरोपितों को जेल भेज दिया है। माना जा रहा है कि जेल गए वाल्मीकि ठाकुर पर बर्खास्तगी की तलवार भी लटक गई है। जेल गए आर्मी नायक के कब्जे से दो कैंटिन कार्ड भी बरामद हुए हैं, जिसमें एक लीकर व दूसरा ग्रॉसरी कार्ड है।

जीजा को पिलाई थी नशीली सिगरेट

लॉकडाउन में आईपीएल में 8 लाख का सट्टा हारने के बाद साले शुभम कीर्ति के साथ उसका जीजा वाल्मिकी ठाकुर ने एटीएम काटकर रुपये चुराने की साजिश रची। पुलिस की पूछताछ में पता चला कि सबसे पहले शुभम कीर्ति ने अपने जीजा को सिगरेट में भरकर नशीला पदार्थ पिला दिया। इसके बाद तीनों नशे में रेस्टोरेंट के पास जाकर नास्ता किये। बाद में खाली एटीएम को देखकर लूटने की साजिश रची।

थाने पहुंचकर पत्नी ने भाई को डांटा

पत्रकारनगर थाने की पुलिस ने बताया कि बाल्मिकी की पत्नी थाने पहुंच कर अपने भाई शुभम कीर्ति को जमकर फटकार लगायी। उससे कहा कि तुम्हारी वजह से ही मेरे पति इस हालत में हैं।

साले की करतूत से फंसा जीजा

साले शुभम कीर्ति की करतूत से ही उसका जीजा बाल्मीकि ठाकुर फंस गया। छुट्टी पर वह घर आया था। पैसे की लालच में वह साले के बुने जाल में फंस गया और पकड़ा गया। इसके चलते वह सेना के जवान के बाद अपराधी बन गया है। इसके जुर्म में उसे सलाखों के पीछे जाना पड़ा है।

कंकड़बाग में शुभम ने लूटी थी बाइक

पत्रकारनगर थाना प्रभारी मनोरंजन भारती ने बताया कि पूछताछ में शुभम कीर्ति ने बताया है कि वह कंकड़बाग थाना क्षेत्र में बाइक लूटने के मामले में भी आरोपित रहा है, जबकि एनडीपीएस एक्ट के मामले में पत्रकारनगर से गिरफ्तार होने के बाद वह जेल जा चुका है। पूछताछ में वाल्मीकि ठाकुर ने बताया कि वह अपने साले शुभम के बहकावे में आकर फंस गया। एटीएम की रेकी करने के लिए हरे रंग की कार इस्तेमाल की थी।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें