DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजनीति की जगह संघ के लिए समर्पित स्वयंसेवक बनाएं : RSS

अपने दस दिवसीय बिहार प्रवास में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक डॉ. मोहन भागवत ने स्थानीय कार्यकर्ताओं को कई अहम टास्क दिए। संघ में समर्पित नए स्वयंसेवक बनाने व शाखा लगाने के लिए कहा। लोगों को संघ के विचारों से अवगत कराने को कहा ताकि वैसे लोग जिनके मन में संघ के प्रति अलग विचारधारा बनी है, वे भी प्रभावित होकर संघ से जुड़ सकें।

संघ सूत्रों के अनुसार विशेष रणनीति बनी है कि आरएसएस में समर्पित नए स्वयंसेवक बनाए जाएं। ऐसा स्वयंसेवक बनने के बाद भाजपा के रास्ते राजनीति में जानेवालों की संख्या को देखते हुए किया गया है। पहले के वर्षों की तरह ही ऐसे स्वयंसेवक बनाए जाएं जो केवल आरएसएस में समर्पण के साथ काम कर सकें। संघ के विचारों को विस्तार दें। इन बैठकों में मिशन 2019 के तहत अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर भी चर्चा हुई।

आरएसएस के स्थानीय नेताओं के अनुसार पटना में लगातार तीन दिनों तक रहे आरएसएस प्रमुख ने संघ के शीर्ष नेताओं व स्थानीय नेताओं के साथ औपचारिक-अनौपचारिक बैठक की। पूरी तरह गोपनीय रूप में कोर ग्रुप की बैठक हुई जिसमें नागपुर में होनेवाले अखिल भारतीय सम्मेलन के एजेंडों पर चर्चा हुई। साथ ही बिहार, झारखंड, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश में संघ को और विस्तार करने पर विशेष चर्चा हुई। संघ के स्वयंसेवकों की संख्या व शाखा बढ़ाने को लेकर मंथन हुआ। बैठक में सुरेश सोनी, दत्तात्रेय होसबाले जैसे संघ के शीर्ष नेता शामिल हुए।

पटना से आज वाराणसी जाएंगे भागवत

दस दिवसीय बिहार प्रवास के बाद संघ प्रमुख गुरुवार सुबह पटना से वाराणसी के लिए रवाना होंगे। बीते पांच फरवरी को वे पटना आए थे। पटना के अलावा उन्होंने मुजफ्फरपुर में भी प्रवास किया। आरएसएस के डॉ. मोहन सिंह की ओर से जारी बयान के अनुसार मुजफ्फरपुर से आने के बाद संघ प्रमुख ने पटना में तीन दिवसीय प्रवास में स्थानीय कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। डॉ. मोहन ने कहा कि संघ प्रमुख का बिहार से पुराना संबंध रहा है। 1993 से 1999 तक डॉ. भागवत का केंद्र (कार्यक्षेत्र) पटना ही था। अखिल भारतीय शारीरिक प्रमुख के साथ उत्तर-पूर्व क्षेत्र (बिहार-झारखंड) के सह क्षेत्र प्रचारक एवं क्षेत्र प्रचारक भी रहे हैं। उनके इस प्रवास में कई नए-पुराने कार्यकर्ताओं से संघ प्रमुख का मिलना-जुलना हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Prepare dedicated swayamsevaks for sangh