DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नल- जल के लिए पंचायती राज एक्ट में होगा संशोधन

बिहार सरकार के सात निश्चय के तहत संचालित हर घर नल का जल और गली-नाली बनाने की योजना के क्रियान्वयन को लेकर प्रावधान में बदलाव होगा। राज्य सरकार इसके लिए बिहार पंचायती राज अधिनियम की दो धाराओं में बदलाव की तैयारी कर रही है। इसपर मुख्यमंत्री ने गुरुवार को राज्यपाल रामनाथ कोविन्द से भी चर्चा की। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को राजभवन जाकर राज्यपाल से मुलाकात की। हालांकि राजभवन ने इसे शिष्टाचार मुलाकात बताया है, पर मिली जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री और राज्यपाल के बीच कुछ कानूनी मसलों पर चर्चा हुई। श्री कुमार ने राज्यपाल से करीब एक घंटे तक विमर्श किया। विदित हो कि पटना हाईकोर्ट ने हर घर नल का जल व गली-नाली योजना के लिए वार्ड विकास समिति बनाने के निर्णय पर रोक लगा दी है। मुखियाओं की ओर से आयी अपील पर न्यायालय के इस फैसले के बाद योजना के नये सिरे से क्रियान्वयन पर राज्य सरकार विचार कर रही है। मुख्यमंत्री के राजभवन से लौटने के बाद शाम पांच बजे राज्य के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने राज्यपाल रामनाथ कोविन्द से राजभवन जाकर भेंट की। उम्मीद की जा रही है कि मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव की मुलाकात के बाद गली-नाली व हर घर नल का जल को लेकर एक्ट में जल्द ही बदलाव देखने को मिले। इस बाबत पूछे जाने पर पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत ने भी कहा कि बिहार पंचायती राज अधिनियम की धारा 26 और 27 में सरकार बदलाव करने जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Panchayati Raj Act will be amended for tap-water plan