Nitish is not on the mercy of anyone people entrusted leadership Tyagi - नीतीश किसी के रहमोकरम पर नहीं, जनता ने सौंपा नेतृत्व : त्यागी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश किसी के रहमोकरम पर नहीं, जनता ने सौंपा नेतृत्व : त्यागी

नीतीश किसी के रहमोकरम पर नहीं, जनता ने सौंपा नेतृत्व : त्यागी

भाजपा नेताओं के बयान को जदयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने अगंभीर करार दिया है। मंगलवार को कहा कि नीतीश कुमार किसी के रहमोकरम पर मुख्यमंत्री नहीं हैं। जनता ने उन्हें चुना है। एमएलए, एमपी, पदाधिकारी पार्टी चुनती है पर नेता तो जनता बनाती है।

कहा कि भाजपा या जदयू ने नहीं, जनता ने नीतीश कुमार को बिहार का नेतृत्व सौंपा है। वे देश के सर्वाधिक लोकप्रिय राजनीतिक चेहरा हैं। बिहार में उनका कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने इस प्रदेश को अंधेरे से नये उजाले में लाया है। श्री त्यागी ने कहा कि नीतीश कुमार जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। अपनी भूमिका या तो वह खुद तय करेंगे अथवा पार्टी तय करेगी, दूसरी पार्टी का कोई बयानवीर नहीं। जिन लोगों ने उनके नेतृत्व को लेकर कुछ बातें कही हैं उन्हें समझना चाहिए कई अवसरों पर भाजपा-लोजपा के नेतृत्व ने कहा है कि बिहार में 2020 का चुनाव नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ेंगे। उन्होंने नसीहत दी कि भाजपा के न्यूज मेकर लीडरों को जदयू से सीख लेनी चाहिए। हमारे दल के किसी ने नरेन्द्र मोदी या अमित शाह के खिलाफ कभी कोई टिप्पणी नहीं की है।

जदयू महासचिव ने भाजपा को वर्ष 2005 की याद दिलायी है। कहा कि केन्द्र में अटल जी की सरकार की विदाई के बाद बिहार में हो रहे चुनाव का प्रारंभिक रुझान लालू प्रसाद के पक्ष में था। तभी रांची में लालकृष्ण आडवाणी ने बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की घोषणा की और देखते ही देखते बिहार का राजनीतिक पासा पलट गया। कहा कि भाजपा के बयानबीर नेता अपने बड़बोले बयान से बचें। चुनाव की दस्तक के बीच ऐसे बयानों से मूड खराब होता है।

गफलत में न रहे भाजपा, नीतीश मॉडल सर्वश्रेष्ठ : प्रो. नंदन

पटना। जदयू विधान पार्षद प्रो. रणवीर नन्दन ने भाजपा के डॉ. संजय पासवान तथा कांग्रेस से भाजपा में आये महाचन्द्र प्रसाद सिंह के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कहा है कि संजय पासवान ने नेतृत्व पर सवाल उठाकर जनादेश और गठबंधन धर्म दोनों का अपमान किया है। नीतीश कुमार को बिहार की जनता ने चुना है। रही बात नीतीश कुमार के विकास मॉडल की तो यह मॉडल बिहार ही नहीं, पूरे देश के लिए सर्वश्रेष्ठ है। कहा कि संजय पासवान अभी भी मुगालते में हैं। ऐसी सोच रखने वालों को 2015 विधानसभा चुनाव का परिणाम एक बार फिर देख लेना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Nitish is not on the mercy of anyone people entrusted leadership Tyagi

'हिन्दुस्तान स्मार्ट' अख़बार की कॉपी पाने के लिए, नीचे दिए फॉर्म को भरे

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी किसी से साझा नहीं की जाएगी व केवल हिन्दुस्तान अख़बार द्वारा आपसे संपर्क करने के लिए इस्तमाल की जाएगी।