class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शरद व अनवर को नहीं दिया गया पक्ष रखने का मौका : अर्जुन

शरद गुट ने राज्यसभा सभापति द्वारा शरद यादव और अली अनवर की सदस्यता समाप्त करने के निर्णय पर सवाल खड़ा किया है। गुरुवार को पटना में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूर्व सांसद अर्जुन राय ने कहा कि राज्यसभा सभापति ने इस मामले को आचार समिति के पास भेजने की जगह खुद फैसला ले लिया।

श्री राय ने कहा कि एक तरफ तो अरबों रुपये के डिफॉल्टर और देश से फरार कारोबारी विजय माल्या की सदस्यता समाप्त करने की याचिका आचार समिति को भेज दी गई, वहीं श्री यादव और श्री अनवर के मामले में सभापति ने स्वयं फैसला सुना दिया। उन्होंने कहा कि राज्यसभा सभापति ने श्री यादव और अनवर को वकील के माध्यम से अपना पक्ष रखने का भी मौका नहीं दिया, जो स्थापित नियमों का उल्लंघन है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:news brief
गुजरात में हार देख खीझी भाजपा : सदानंदलालू प्रसाद राजनीति के भूले बिसरे गीत हो गए : संजय