DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीपीएससी में चौथा रैंक लाकर अविनाश ने बढ़ाया नवादा का मान

बीपीएससी में चौथा रैंक लाकर अविनाश ने बढ़ाया नवादा का मान

सिरदला के अविनाश कुमार ने बिहार लोक सेवा आयोग की 60वीं से 62वीं की परीक्षा में जनरल कैटेगरी में चौथा रैंक लाकर नवादा का मान बढ़ाया है। इच्छा शक्ति और दृढ़ लगन हो तो सफलता का रास्ता मिल ही जाता है के मूलमंत्र पर चलने वाले अविनाश कुमार ने किसी भी सफलता के लिए सतत परिश्रम और लक्ष्यपरक पढ़ाई को महत्वपूर्ण बताया। चार साल मर्चेन्ट नेवी व पांच साल तक कानपुर में वाणिज्य कर अधिकारी पद पर कार्यरत रहे अविनाश कुमार ने बीपीएससी की परीक्षा में प्रतिष्ठापरक सफलता हासिल कर न सिर्फ अपने सपने बल्कि उनसे उम्मीद लगाए बैठे सभी शुभचिंतकों का मान बढ़ा दिया है। अविनाश की माता उर्मिला देवी गृहिणी हैं, जबकि पिता संजय सिंह झारखंड से उत्पाद विभाग के रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर हैं। अविनाश ने प्रशासनिक सेवा में रह कर जरूरतमंदों की सेवा में खुद को समर्पित कर देने की बात कहते हैं। 

छा गयी है खुशी की लहर

सिरदला प्रखंड की सांढ़ पंचायत के सोनपुरा खैरा निवासी रिटायर्ड उत्पाद इंस्पेक्टर संजय सिंह और गृहिणी उमा देवी के पुत्र अविनाश कुमार ने सन 1999 में मैट्रिक परीक्षा व 2001 में इंटर की परीक्षा संत माइकल हाई स्कूल पटना से पास की थी। वहीं वर्ष 2005 में बीएससी मुम्बई यूनिवर्सिटी से करने के बाद सिविल सेवा की तैयारी में जुट गए। अविनाश ने प्रथम प्रयास 2011 में किया पर सफलता नहीं मिली। दो साल के बाद इनका चयन उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग में हुआ और कानपुर में वाणिज्य कर अधिकारी के रूप में अपना योगदान दिया। दूसरे प्रयास में बिहार लोक सेवा आयोग के 60 वीं से 62 वीं परीक्षा में टॉपर की श्रेणी में चौथा रैंक प्राप्त किया। अविनाश अपनी सफलता का श्रेय पिता संजय कुमार एवं मां उमा देवी और पटना के प्रोफेसर के. मुखर्जी सर के साथ बड़े भाई प्रवीण सिंह एवं पत्नी खुशबू सिंह के प्रोत्साहन व स्नेह को देते हैं।उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य यूपीएससी में सफलता प्राप्त करना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Nawadas Avinash fourth ranked in Bihar Public Service Commission