अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साढ़े 10 हजार महिला पुलिस थानों में होंगी तैनात : डीजीपी

बिहार स्वाभिमान पुलिस बटालियन के स्थापना दिवस समारोह में डीजीपी केएस द्विवेदी ने महिलाओं की पुलिस में भूमिका पर कहा कि आनेवाले समय में बिहार के थानों में 10 हजार 500 महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती होगी। महिलाओं के खिलाफ होनेवाले अपराध को लेकर जो राष्ट्रीय स्तर पर पैमाना बनाया गया है उसके तहत पर्याप्त संख्या में महिलाओं की तैनाती थानों में करनी है। अभी बिहार पुलिस में 9900 सिपाहियों की बहाली हुई है। इसे जोड़ दें तो अब बिहार में पुलिस की संख्या 87 हजार 669 होगी। इनमें 13 हजार 701 महिलाएं हैं। इनका प्रतिशत 15.62 प्रतिशत है। 2006 में यह संख्या मात्र 1.23 प्रतिशत थी।

गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुलिस में महिलाओं को आरक्षण देने का आदेश दिया था। मुख्यमंत्री के इससे संबंधित आदेश पर हमें अचरज हुआ था। आदेश का पालन तो हमने किया पर मेरे मन में सवाल उठ रहे थे। 2013 में यह आदेश मिला था तब सामान्य नौकरियों में भी महिलाओं को 35 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था नहीं थी। पुलिस से ही इसकी पहल की गई। उन्होंने एक शेर भी पढ़ा, ‘तेरे माथे पर यह आंचल बहुत ही खूब है, लेकिन तू इस आंचल से एक परचम बना लेती तो अच्छा था।

मंच संचालन आईजी डॉ. कमल किशोर सिंह ने किया, जबकि अतिथियों का स्वागत बीएमपी के डीजी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने की। इस मौके पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार के अलावा बिहार पुलिस के तमाम वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:More than ten thousand women police will be deputed in police station in Bihar