market of chhath puja in Patna - मिट्टी के चूल्हे, आम की लकड़ी....छठ पूजा के सामान से पटा पटना का बाजार DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिट्टी के चूल्हे, आम की लकड़ी....छठ पूजा के सामान से पटा पटना का बाजार 

मंगलवार से महापर्व छठ की शुरुआत हो रही है। इसको लेकर महापर्व में इस्तेमाल आने वाले सामान का बाजार सज चुका है। ठाकुरबाड़ी रोड, बाकरगंज बर्तन बाजार, दिनकर गोलंबर, जीपीओ चौराहा, पटना सिटी, ठठेरी बाजार और हनुमान नगर समेत राजधानी के दर्जनों इलाकों में छठ का बाजार लग चुका है। 
रविवार को छुट्टी का दिन होने से काफी संख्या में लोगों ने महापर्व को खास बनाने के लिए जरूरी सामानों की खरीदारी की। सुबह के आठ बजे दिनकर गोलंबर पर आम की लकड़ी, मिट्टी के चूल्हे और मिट्टी के अन्य बर्तनों की खरीदारी हो रही है। आम की लकड़ी बेचने वाले राजू ने बताया कि सुबह से लेकर देर रात लोग सामान खरीद रहे हैं। उन्होंने बताया कि आम की लकड़ी 100 रुपए पसेरी बिक रही है। ट्रांसपोर्ट नगर निवासी विनोद पाठक ने बताया कि आम की लकड़ी महापर्व में प्रसाद बनाने के लिए पवित्र मानी जाती है, इसलिए इसे खरीद रहे हैं। 
शाम छह बजे जीपीओ गोलंबर के पास मिट्टी का घड़ा, कलश, दीया और अन्य बर्तन के अलावा आम की लकड़ी और बांस के सूप व दउरा खरीदने वालों की भीड़ दिखी। सूप विक्रेता राहुल कुमार ने बताया कि 100 रुपए में एक जोड़ा सूप दिया जा रहा है। दउरा की कीमत 150 से लेकर 200 रुपए तक है। आम की लकड़ी यहां 80 रुपए पसेरी बिक रही थी। मिट्टी के कलश, पंचमुखी दीए, घड़ा और ताई की अस्थायी दुकानें भी सजी थीं। यहां मिट्टी का चूल्हा 150 रुपए जोड़ा  बिक रहा था। मिट्टी के चूल्हे भी रविवार को खूब बिके। दुकानदार धनिया देवी ने बताया कि खरना के दिन से ही चूल्हे का इस्तेमाल शुरू हो जाता है, इसलिए लोग इसे पहले खरीद रहे हैं। हनुमान नगर, मलाही पकड़ी, बोरिंग रोड, जगदेव पथ, राजेंद्रनगर मंडी समेत अन्य इलाकों में छठ सामग्री की अस्थायी दुकानें सज गई हैं। छठ पर अर्घ्य देने के लिए चांदी के सूप-दीये का भी बढ़ रहा क्रेजदोपहर में बाकरगंज सर्राफा मंडी व बर्तन बाजार में भी रौनक दिखी। पाटलिपुत्र सर्राफा संघ के अध्यक्ष ने बताया कि छठ को लेकर सोने एवं चांदी के सूप और दीये की डिमांड बढ़ी है। सोने के सूप ऑर्डर पर बनाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि व्रती अपनी मन्नत को पूरी करने के लिए इसे खरीद रहे हैं। पीतल के बर्तन भी इन दिनों खूब बिक रहे हैं। 
बाकरगंज सर्राफा व्यवसायी अशोक कुमार वर्मा ने बताया कि दुकानों में सोने के सूप की कीमत 3000 से लेकर 15000 तक का मिल रहा है। यह नेग के तौर  पर छोटा सूप होता है। इससे अधिक का ऑर्डर पर बनता है। जबकि चांदी के सूप 50 ग्राम से लेकर एक किलो तक के मिल रहे हैं। बोरिंग रोड के व्यवसायी संजय केसरी ने बताया कि छठ में टीका व नथिया के साथ साथ बिछिया व चांदी के पायल भी बिक रहे हैं। 
छठ को लेकर राजधानी में सब्जियों के दामों में भी बढ़ोतरी हो गई है। छठ में इस्तेमाल होने वाली सब्जियों व फलों के दाम बढ़ गए हैं। रविवार को राजेंद्रनगर सब्जी मंडी में कद्दू 40 से 50 रुपए प्रति पीस बिका। नारियल के दामें हल्की बढ़ोतरी हुई है। 20 रुपए का नारियल 30 से 40 रुपए प्रति पीस बिक रहा है। इसके अलावा राजधानी में हरी सब्जियों के दाम भी बढ़ गए हैं। टमाटर के भाव 50 रुपए प्रति किलो हो गए हैं। शिमला मिर्च 160 रुपए प्रति किलो, धनिया 400 रुपए प्रति किलो, फ्रेंच बिन 120 रुपए प्रति किलो, गाजर 50 रुपए प्रति किलो, मूली-करैला-आंवला 40 रुपए प्रति किलो हो गया है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: market of chhath puja in Patna

'हिन्दुस्तान स्मार्ट' अख़बार की कॉपी पाने के लिए, नीचे दिए फॉर्म को भरे

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी किसी से साझा नहीं की जाएगी व केवल हिन्दुस्तान अख़बार द्वारा आपसे संपर्क करने के लिए इस्तमाल की जाएगी।