DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्माद व उत्पात की राजनीति का जवाब दिया जाएगा : माले

उन्माद व उत्पात की राजनीति का जवाब दिया जाएगा : माले

माले महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि बिहार में उन्माद और उत्पात की राजनीति का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। सभी वाम और लोकतांत्रिक शक्तियां मिलकर गुजरात के फासीवाद व साम्प्रदायिक ‘मॉडल का मुकाबला करेंगी। श्री भट्टाचार्य मंगलवार को भारतीय नृत्य कला मंदिर में पार्टी की ओर से आयोजित जनकन्वेंशन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश को अडानी, अंबानी और पतंजलि के हवाले नहीं किया जा सकता है। भोजपुर में संदिग्ध मांस की बरामदगी के नाम पर जो हंगामा-उत्पात मचाया गया, वह राज्य में फासीवाद के फैलने की आहट है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसी हरकतों को प्रोत्साहन देने वाले तत्वों,अफसरों का अब तुरंत घेराव किया जाएगा। दलित बस्तियों में बोर्ड लगा जाएगा कि यहां संकीर्णता, गुंडागर्दी, उन्माद व विश्वासघात के लिए एक इंच भी जगह नहीं है। कहा कि नीतीश कुमार ने जनादेश को हड़प कर भाजपा के समक्ष सरेंडर कर दिया। शराबबंदी के नाम पर सामाजिक अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। देश में दंगे, फसाद का माहौल बनाया जा रहा है। रोजी-रोजगार, जमीन-मजदूरी से लेकर शिक्षा, मकान आदि अधिकारों की लड़ाई एक साथ लड़ी जाएगी। आरोप लगाया कि भाजपा की राजनीति आम लोगों को जमीन, कारोबार छीन कर आर्थिक रूप से तबाह कर देना है। मौके पर आठ सूत्री राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया। भाकपा के राज्य सचिवमंडल सदस्य रामबाबू कुमार, माकपा के अरुण कुमार मिश्र, फारवर्ड ब्लाक के वीरेन्द्र ठाकुर, एसयूसीआई के अरुण कुमार, माले के राज्य सचिव कुणाल, अर्थशास्त्री डीएम दिवाकर, महेन्द्र नारायण कर्ण, अरशद अजमल, पीएनपी पॉल आदि ने साम्प्रदायिकता से मुकाबले के लिए आगे आने का आह्वान किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MALE says, will give answer to the communal politics