ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार पटनाललन बने प्रस्तावक, उमेश कुशवाहा निर्विरोध जदयू के प्रदेश अध्यक्ष

ललन बने प्रस्तावक, उमेश कुशवाहा निर्विरोध जदयू के प्रदेश अध्यक्ष

जदयू के वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा इस पद पर बने रहेंगे। शनिवार को पार्टी के संगठनात्मक चुनाव के दौरान वे निर्विरोध प्रदेश अध्यक्ष चुन...

ललन बने प्रस्तावक, उमेश कुशवाहा निर्विरोध जदयू के प्रदेश अध्यक्ष
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,पटनाSat, 26 Nov 2022 07:50 PM
ऐप पर पढ़ें

जदयू के वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा इस पद पर बने रहेंगे। शनिवार को पार्टी के संगठनात्मक चुनाव के दौरान वे निर्विरोध प्रदेश अध्यक्ष चुन लिये गये। खास बात यह रही कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह उनके प्रस्तावक बने तथा उमेश कुशवाहा ने जदयू के प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए इकलौता नामांकन राज्य निर्वाचन पदाधिकारी जनार्दन प्रसाद सिंह के समक्ष दाखिल किया। हालांकि उनके निर्विरोध प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित होने पर रविवार को राज्य परिषद की होने वाली बैठक में मुहर लगेगी।

उमेश कुशवाहा ने राज्य निर्वाचन पदाधिकारी के समक्ष 12:40 बजे अपना नामांकन किया। इस दौरान उनके साथ राष्ट्रीय अध्यक्ष के अलावा एमएलसी संजय गांधी, अफाक अहमद, खालिद अनवर व विधायक निरंजन मेहता समेत अन्य नेता मौजूद रहे। नाम वापसी का समय 3 से 5 बीतने के बाद कुशवाहा के अध्यक्ष निर्वाचित होने की घोषणा मात्र औपचारिकता भर रह गयी। उनके नामांकन के समय पार्टी नेता मृत्युंजय कुमार सिंह, चंदन कुमार सिंह, लोक प्रकाश सिंह, वासुदेव कुशवाहा, परिमल कुमार, अभिषेक झा, अंजुम आरा, आनुप्रिया, ई. रामचरित्र प्रसाद, डॉ. अमरदीप, ओमप्रकाश सिंह सेतु, मुकेश कुमार आदि मौजूद रहे।

उमेश कुशवाहा ने पार्टी नेतृत्व का आभार जताया

दुबारा प्रदेश अध्यक्ष बनाने के लिए उमेश कुमार कुशवाहा ने पार्टी नेतृत्व के प्रति आभार जताया। नामांकन के बाद कुशवाहा ने पुनः उनपर भरोसा एवं विश्वास करने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पार्टी सबका साथ और सबका विकास चाहती है।

राज्य परिषद की बैठक में शामिल होंगे 500 नेता, तीन प्रस्ताव होंगे पारित

जदयू मुख्यालय के कर्पूरी सभागार में रविवार 27 नवम्बर की सुबह 11 बजे से जदयू के राज्य परिषद की बैठक होगी। इस बैठक को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह, वरिष्ठ मंत्री विजय कुमार चौधरी और नवनिर्वाचित अध्यक्ष संबोधित करेंगे। उसके पहले राज्य निर्वाचन पदाधिकारी जनार्दन प्रसाद सिंह तीन प्रस्ताव रखेंगे। उमेश कुशवाहा के निर्विरोध निर्वाचन पर राज्य परिषद की मुहर लगेगी। राष्ट्रीय परिषद के गठन तथा राज्य कार्यकारिणी के गठन से संबंधित प्रस्ताव लाये जायेंगे। इस बैठक में राज्य परिषद के तकरीबन 500 नेताओं को शामिल होने का बुलावा गया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।