DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगर सीएम अपना बयान स्पष्ट कर देते तो आंदोलन की जरूरत न पड़ती: उपेन्द्र

केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री उपेन्द्र कुशवाहा

केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने एक बार फिर नीतीश सरकार को आड़े हाथों लिया है। शनिवार को पटना में संगठन ‘समस्त कुशवाहा समाज’ के मार्च पर पुलिस लाठीचार्ज पर कहा कि अगर राजभवन की तरफ शांतिपूर्ण तरीके से मार्च कर रहे लोगों को संभाल पाना मुश्किल था, तो भीड़ को तीतर-बितर करने के कई अन्य तरीके भी थे। 

ट्वीट कर सवाल किया कि आखिरकार लाठी-डंडों से पिटवाकर निर्दोषों का खून बहाना व महिलाओं पर लाठी चलवाना कहां का न्याय है। तंज कसा कि यह कैसा सुशासन है। सीएम से यह भी कहा कि कुशवाहा समाज पर लाठी चलवाने के बजाए आप अपने बयान का अर्थ लोगों को सार्वजनिक रूप से समझा देते तो बड़ी कृपा होती। शायद लोगों का गुस्सा शांत हो जाता और आंदोलन की जरूरत ही नहीं पड़ती। लाठीचार्ज की घटना बेहद दुखद, शर्मनाक व आश्चर्यजनक है। 

उपेन्द्र ने कहा कि बिहार सरकार की पुलिस अपराधियों को तो सिर पर बिठाती है, लेकिन आंदोलनकारियों का सिर फोड़ती है। निर्दयतापूर्ण लाठीचार्ज में घायलों के प्रति दुःख-दर्द व्यक्त करता हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:If CM clarifies his statement then no need movement Upendra Kushwaha