DA Image
25 नवंबर, 2020|8:00|IST

अगली स्टोरी

बिहार में अपना अस्तित्व तलाश रहे हैं महागठबंधन के दल : जेडीयू

जदयू प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह

जदयू प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि बिहार में महागठबंधन में जो भी दल हैं वह अपने अस्तित्व की ही तलाश कर रहे हैं। कांग्रेस के अपने सुर ताल हैं और राजद के अपने पैंतरे। जीतन राम मांझी पूरी तरह से नैपथ्य में हैं तो उपेंद्र कुशवाहा को लगा रहा है कि वो जहां थे, वहीं ठीक थे।

जदयू प्रवक्ता ने विपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव से सवाल किया कि जब पूरे महागठबंधन की बागडोर ही एक सजायाफ्ता कैदी के हाथों में हो तो उससे क्या उम्मीद की जा सकती है? कहा, भले ही लालू प्रसाद राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष हों, लेकिन दुनिया की नजर में वह एक सजायाफ्ता हैं। सजायाफ्ता कैदी लोकतंत्र का फैसला नहीं कर सकता है। 

उन्होंने बिना किसी का नाम लिये कहा कि जो नेता एनडीए को कोस रहे थे, आज वे रांची जाकर एक कैदी से मिलने के लिए बेचैन दिख रहे हैं। ये नेता अपनी जमीर को गिरवी रखकर जिस तरह से सजायाफ्ता कैदी का महिमा मंडन कर रहे हैं, इसे जनता देख रही है। इसका जवाब वर्ष 2019 में जनता द्वारा मिल जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Grand alliances party Are looking for their existence in Bihar

'हिन्दुस्तान स्मार्ट' अख़बार की कॉपी पाने के लिए, नीचे दिए फॉर्म को भरे

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी किसी से साझा नहीं की जाएगी व केवल हिन्दुस्तान अख़बार द्वारा आपसे संपर्क करने के लिए इस्तमाल की जाएगी।