DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों के सभी कर्जों को माफ करे सरकार : वाम दल

किसानों के सभी कर्जों को माफ करे सरकार : वाम दल

भाकपा माले की रैली में वाम दलों ने कहा कि सरकार किसानों का सभी बकाया कर्ज माफ करे। साथ ही पूंजीपतियों से 10 लाख करोड़ के एनपीए (नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स) की वसूली की कार्रवाई करे। गांधी मैदान में आयोजित रैली में भाकपा, माकपा, राजद आदि दलों के नेताओं ने कहा कि कर्ज में डूबे किसानों की आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं को रोकने को तुरंत कदम उठाने चाहिए। कहा कि वोटर लिस्ट से बड़े पैमाने पर नाम हटाने की साजिश हो रही है। जनता इससे सावधान रहे।

मौके पर माले ने नौ सूत्री प्रस्ताव पारित कर नवंबर में होने वाले किसानों के राष्ट्रव्यापी आंदोलन को समर्थन देने की घोषणा की। पार्टी ने सरकार से बेरोजगारों को पांच हजार मासिक भत्ता देने, भूमि आयोग की अनुशंसा लागू करने, मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांड के लिए मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग की।

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष एन. साईं बालाजी ने कहा कि रोजगार का वायदा पूरा नहीं करना देश के साथ धोखा है। पटना विवि को पैसे नहीं देकर ‘जिओ यूनिवर्सिटी जैसे काल्पनिक विश्वविद्यालयों को करोड़ों रुपए का अनुदान दिया जा रहा है। जुमलों से नौजवानों के साथ धोखा किया जा रहा है।

सभाध्यक्ष के पूर्व अध्यक्ष लोजद के नेता उदय नारायण चौधरी ने कहा कि देश में आंशिक इमरजेंसी लागू है। लिखने व बोलने पर पाबंदी लगा दी गई है। बहुराष्ट्रीय कंपनियों व उद्योगपतियों के लिए हर तरह की छूट है। कॉरपोरेट घरानों के सभी अस्पतालों का राष्ट्रीयकरण होना चाहिए।

राजद नेता शिवचन्द्र राम ने कहा कि गरीबों-पिछड़ों की एकता को तोड़ने व आरक्षण खत्म करने की साजिश हो रही है। सामाजिक न्याय की धारा को कमजोर किया जा रहा है। माकपा के राज्य सचिव अवधेश कुमार ने कहा कि भाजपा सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। लोकतंत्र को बचाने के लिए लाल झंडा उतर चुका है। भाकपा के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने कहा कि महंगाई से देश त्रस्त है। आरोप लगाया कि सरकार ने वादाखिलाफी नहीं विश्वासघात किया है। इस अवसर पर पार्टी नेता राजाराम, मीना तिवारी, विधायक महबूब आलम, कविता कृष्णन, कुणाल, धीरेन्द्र झा आदि ने लोगों से उन्माद व उत्पात की राजनीति से सावधान रहने की अपील की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Government should forgive all the debts of farmers