DA Image
23 फरवरी, 2020|6:15|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार ने बैंकों को लगायी फटकार, कहा- अधिक कर्ज दें

उप मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक, बैंकों के प्रतिनिधि शामिल

राज्य सरकार ने बैंकों को फटकार लगायी है और राज्य में ऋण का प्रवाह बढ़ाने का निर्देश दिया है। राज्य में वित्तीय वर्ष 2018-19 में कुल एक लाख 30 करोड़ का ऋण वितरण करने का लक्ष्य है, जबकि वित्तीय वर्ष की प्रथम छमाही में 48 हजार 641 करोड़ ही ऋण वितरित किया गया है। यह पिछले वित्तीय वर्ष के प्रथम छमाही की तुलना में कम है और इस वर्ष लक्ष्य का 37.42 फीसदी है। 

शनिवार को 66वीं राज्यस्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक में इस तथ्य के सामने आने पर बैठक की अध्यक्षता कर रहे उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी ने सभी बैंकों को फटकार लगायी और निर्देश दिया कि वे तीसरी व चौथी तिमाही में बेहतर प्रदर्शन करें। बैठक में ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, पशुपालन मंत्री पशुपति कुमार पारस, सहकारिता मंत्री राणा रणधीर सिंह, वित्त विभाग के  प्रधान सचिव डॉ. एस. सिद्धार्थ, कृषि विभाग के प्रधान सचिव सुधीर कुमार, पशुपालन विभाग की सचिव डॉ. एन विजयालक्ष्मी के अतिरिक्त रिजर्व बैंक, नाबार्ड सहित विभिन्न बैंकों के वरीय अधिकारी शामिल हुए। 

बाद में प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी ने बताया कि सात जिलों जहानाबाद, मधुबनी, गोपालगंज, खगड़िया, नालंदा और सीवान में वार्षिक साख योजना के तहत 30 फीसदी से कम ऋण वितरित किया गया है। यह राज्य के औसत ऋण वितरण से भी 10 फीसदी कम है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Government rebukes banks said give more loans

'हिन्दुस्तान स्मार्ट' अख़बार की कॉपी पाने के लिए, नीचे दिए फॉर्म को भरे

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी किसी से साझा नहीं की जाएगी व केवल हिन्दुस्तान अख़बार द्वारा आपसे संपर्क करने के लिए इस्तमाल की जाएगी।