अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह माह तक पंचायतों में मुफ्त ब्रॉडबैंड : मोदी

छह माह तक पंचायतों में मुफ्त ब्रॉडबैंड : मोदी

उप मुख्यमंत्री व आईटी मंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि देशभर की एक लाख ग्राम पंचायतों के ग्रामीणों को प्रारंभ के छह महीने तक डिजिटल इंडिया के अंतर्गत भारत नेट द्वारा मुफ्त ब्रॉड बैंड इंटरनेट की सेवा दी जाएगी। इनमें बिहार की 6105 पंचायतें शामिल हैं।

श्री मोदी ने कहा कि देश की दूरसंचार क्षेत्र की चार बड़ी कम्पनियां वोडाफोन, एयरटेल, जियो और बीएसएनएल 75 प्रतिशत सस्ती दर पर ग्रामीणों को ब्रॉडबैंड सेवा उपलब्ध कराएंगी। पंचायतों में 5-6 वाई-फाई हॉटस्पॉट स्थापित किए जाएंगे, ताकि सभी बसावटों के ग्रामीणों को इंटरनेट की सुविधा मिल सके।

श्री मोदी ने दूरसंचार मंत्रालय की ओर से दिल्ली के विज्ञान भवन में संचार मंत्री मनोज सिन्हा की अध्यक्षता में आयोजित सभी राज्यों के सूचना प्रौद्योगिक मंत्रियों की बैठक में फैसलों की जानकारी दी। कहा कि मार्च 2019 तक शेष बची पंचायतों में ब्रॉड बैंड सेवा उपलब्ध करा दी जाएगी। इनमें बिहार के भी 180 प्रखंडों की 2692 पंचायतें शामिल हैं। भारत सरकार शीघ्र ही निविदा निकाल निजी क्षेत्र के सर्विस प्रोवाइडर को बिहार में दूसरे चरण का ऑप्टिकल फाइवर बिछाने का काम सौंपेगी। दूसरे चरण के काम को पूरा करने के लिए भारत सरकार ने 30 हजार 920 करोड़ रुपये की स्वीकृति प्रदान की है।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में जिन पंचायतों तक ऑप्टिकल फाइवर बिछा दिया गया है वहां पंचायत सरकार भवन या कॉमन सर्विस सेन्टर में ब्रॉड बैंड उपकरण स्थापित किए जाएंगे तथा उसकी देखभाल व सुरक्षा की जिम्मेवारी उन्हें ही दी जाएगी। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत भारत नेट द्वारा देश के सभी पंचायतों को 2019 तक ब्रॉड बैंड से जोड़ कर स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि के साथ ही सरकार द्वारा निर्गत किए जाने वाले सभी प्रकार के प्रमाण पत्रों व सेवाओं को ऑनलाइन उपलब्ध कराया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Free broadband in panchayats for six months: