DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेगूसराय में लूट के दौरान दो बच्चियों समेत मां को चलती ट्रेन से फेंका

सोनपुर रेलमंडल क्षेत्र के चकिया थर्मल हॉल्ट व दिनकर ग्राम सिमरिया स्टेशन के बीच मंगलवार की रात बदमाशों ने महिला यात्री से लूटपाट की। उसके बाद भी उसका मन न भरा तो मां व उनके दो बच्चियों को चलती ट्रेन से फेंक दिया। सिमरिया दक्षिण केबिन (चकिया गांव) के समीप रेल ट्रैक पर चिल्लाती महिला पर ग्रामीणों व रेल पुलिस की नजर पड़ी। उसके बाद महिला को उठाकर बीहट के निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया।

दो बच्चियों को भी बदमाशों द्वारा ट्रेन से फेंके जाने की बात पीड़िता के बताए जाने पर लोग हक्का-बक्का रह गये। इसके बाद रेल पुलिस व स्थानीय लोगों ने टॉर्च की सहायता से चकिया थर्मल हॉल्ट के समीप लगभग 100 मीटर की दूरी पर दोनों बच्चियों को रेल ट्रैक पर से बरामद किया। महिला बरौनी थाना क्षेत्र के हामोडीह-बथौली गांव निवासी राजीव यादव की 25 वर्षीया पत्र्नी ंरकू कुमारी है। उनके साथ दो वर्षीया बेटी रोनी कुमारी व सात माह की बेटी रौनक कुमारी भी थी। पीड़िता ने बताया कि छोटी बेटी रौनक का इलाज करवाकर मोकामा से कमलागंगा इंटरसिटी ट्रेन से घर लौट रही थी। इसी दौरान ने चलती ट्रेन में बदमाशों ने कर्णबाली छीन ली। विरोध करने पर वारदात को अंजाम दिया। डॉक्टर ने बताया कि महिला व उनकी बच्चियां खतरे से बाहर हैं। हालांकि महिला के सिर में गंभीर चोट आयी है। घटना को लेकर पीड़ित परिवार द्वारा मामला दर्ज नहीं करवाया गया है।

चकिया थर्मल हॉल्ट व दिनकर ग्राम सिमरिया स्टेशन के बीच बदमाशों ने चलती ट्रेन से मां व उनकी दो दूधमुंही बच्चियों को ट्रेन से फेंक दिया। इस घटना में र्मां ंरकु देवी को गंभीर चोटे आयी हैं। बड़ी बेटी रोनी कुमारी हल्की चोटिल हुई है, जबकि छोटी बेटी रौनक कुमारी को खरोंच तक नहीं आया है। काफी मशक्कत के बाद जब दोनों बेटियों को रेलवे ट्रैक पर से पुलिस व ग्रामीणों ने बरामद किया तो उन्हें देखकर लोग अचंभित रह गये। लोगों के मुंह से बरबस ही निकल पड़ा-जाको राखे साइयां मार सके न कोय।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:During the robbery in Begusarai, mother including two girls thrown from the moving train