अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डा वरुण कुमार सिंह कोर्ट में किया आत्मसमपर्ण,गया बेउर जेल

भभुआ जिला स्वास्थ्य समिति में करोड़ों रुपये के घोटाले के मामले में फरार चल रहे एक डाक्टर वरुण कुमार सिंह ने सोमवार को निगरानी कोर्ट पटना में आत्मसमर्ण कर दिया। निगरानी कोर्ट ने उसे न्यायिक हिरासत में लेते हुए बेउर जेल भेज दिया। निगरानी कोर्ट ने डाक्टर वरुण सिंह और राजीव सिंह के खिलाफ कुर्की वारंट जारी किया था। इसके साथ ही एक दर्जन डाक्टरों समेत 23 अभियुक्तों के खिलाफ गिरफ्तारी का गैर जमानतीय वारंट निगरानी कोर्ट से जारी हुआ है। इसके लिए भभुआ एसडीपीओ दिलीप कुमार झा ने निगरानी कोर्ट में एक आवेदन दायर कर वारंट जारी करने का अनुरोध किया था। इसी मामले में वर्तमान अनुश्रवण एवं मल्यांकन पदाधिकारी मुज्जफरी अली के खिलाफ वारंट जारी है। भभुआ जिले में स्वास्थ्य योजनाओं में करोड़ों रुपये के घोटाले के इस मामले में जांच अधिकारी ने कुल 59 लोगों के खिलाफ मामला सत्य पाया है जो घोटाले में शामिल है। कई डाक्टर फरार चल रहे हैं। घोटाले की जांच कर रहे पुलिस पदाधिकारी ने शिवम अस्पताल केवढ़ी, कुदरा, कैलाश अस्पताल, गणपति सेवा संस्थान समेत एक दर्जन निजी अस्पतालों की संचिका की जांच पड़ताल कर रहा है। कई निजी अस्पतालों का अता-पता नहीं है जबकि उन्होंने सरकारी योजना के तहत कार्य कर पैसे का भुगतान ले लिया है। यहां तक कि मोटिवेटर को दिया जाने वाला भी पैसा का भुगतान नहीं किया। बंध्याकरण, टीकाकरण और प्रसव समेत कई स्वास्थ्य योजनाओं में जमकर बंदरवांट की गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:doctor surrender Jail