DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार: शहीद पिंटू की शवयात्रा में उमड़ा जनसैलाब

बेगूसराय:शहीद पिंटू की शवयात्रा में उमड़ा जनसैलाब, जिलाधिकारी, एसपी सहित सभी वर्गों के लोग हुए शामिल

कश्मीर के हंदवारा में शहीद हुए सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।रविवार की सुबह 9:30 बजे बखरी थाने के पीछे फील्ड में वायुसेना के हेलीकॉप्टर से शहीद का पार्थिव शरीर लाया गया। हेलीकॉप्टर के लैंड होते ही शहीद पिंटू अमर रहे, भारत माता के जयकारे से पूरा वातावरण गूंज उठा। कई लोगों की आंखों में आंसू भरे थे। 

आर्मी के वरीय अधिकारी उनके ताबूत को कंधे पर लेकर उतरे हेलीकॉप्टर से ताबूत को उतारने के क्रम में डीएम राहुल कुमार, एसपी अवकाश कुमार आदि लोगों ने कंधा दिया। इस अवसर पर शहीद को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके बाद उनके पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव ध्यान चक्की ले जाया गया। इस दौरान बखरी से लेकर उनके गांव ध्यान चक्की तक सड़क के दोनों तरफ अंतिम दर्शन के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। लोग हाथ में तिरंगा झंडा लिए उनके अंतिम यात्रा में शामिल होते गए। रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा, स्थानीय विधायक उपेंद्र पासवान आदि ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। 

गौरतलब है कि उत्तरी कश्मीर के बावगुंड और हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में थाना क्षेत्र के बगरस ध्यान चक्की गांव निवासी सीआरपीएफ इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह शहीद हो गए थे। बगरस ध्यान चक्की गांव निवासी स्व. चक्रधर प्रसाद सिंह के सबसे छोटे पुत्र पिंटू ने वर्ष 2009 में सीआरपीएफ में योगदान किया था। उनकी पहली पोस्टिंग मोतिहारी सीआरपीएफ मुख्यालय में हुई थी। छह साल सर्विस के बाद इन्हें कश्मीर भेज दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CRPF Inspector martyr Pintu Kumars funeral in Begusarai of Patna