DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार पटनाबिहार के सभी जिला अस्पतालों में गंभीर मरीजों के इलाज को क्रिटिकल केयर यूनिट बनेगी

बिहार के सभी जिला अस्पतालों में गंभीर मरीजों के इलाज को क्रिटिकल केयर यूनिट बनेगी

हिन्दुस्तान टीम,पटनाNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 04:50 PM
बिहार के सभी जिला अस्पतालों में गंभीर मरीजों के इलाज को क्रिटिकल केयर यूनिट बनेगी

बिहार के सभी जिला अस्पतालों में क्रिटिकल केयर यूनिट का निर्माण किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों में क्रिटिकल केयर यूनिट के निर्माण व आवश्यक उपकरणों की खरीद को लेकर योजना बनाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि क्रिटिकल केयर यूनिट के निर्माण से सरकारी अस्पतालों में गंभीर मरीजों के इलाज में काफी सुविधा होगी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत नेशनल हेल्थकेयर सिस्टम के तहत सभी जिलों में क्रिटिकल केयर यूनिट का निर्माण कराया जाएगा।

पांच वर्षों तक आर्थिक सहायता दी जाएगी

श्री पांडेय ने बताया कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत नेशनल हेल्थकेयर सिस्टम के तहत 1116 करोड़ रुपये बिहार को केंद्र सरकार द्वारा मिलेगा। इस योजना के तहत अगले पांच वर्षों तक बिहार को सरकारी अस्पतालों की आधारभूत संरचना मजबूत करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। क्रिटिकल केयर यूनिट में मरीजों के इलाज के लिए 24 घंटे प्रशिक्षित मेडिकल टीम तैनात रहेगी। मरीजों की जीवनरक्षा को लेकर ऑक्सीजन, वेंटिलेटर सहित सभी आवश्यक उपकरणों की व्यवस्था की जाएगी।

क्या है क्रिटिकल केयर यूनिट (सीसीयू)

गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं वाले अस्पताल के वैसे रोगी, जिन्हें गहन चिकित्सकीय देखभाल और निगरानी की आवश्यकता होती है। उनके लिए सीसीयू जरूरी होता है। गहन देखभाल इकाइयां जिन्हें इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) भी कहा जाता है, उनमें मरीजों की देखभाल को लेकर सेवा प्रदाताओं की एक टीम होती है। इसमें विशेष रूप से प्रशिक्षित नर्स, चिकित्सकों, श्वसन चिकित्सक, देखभाल प्रबंधक, शारीरिक और व्यावसायिक चिकित्सक व अन्य सेवा प्रदाता शामिल होते हैं। इसमें मरीजों को विशेष रूप से प्रशिक्षित टीम द्वारा मरीजों की चौबीसों घंटे देखभाल की जाती है।

क्रिटिकल केयर की जरूरत किसे

गंभीर रूप से बीमार हर उम्र के अस्पताल के मरीजों के लिए क्रिटिकल केयर उपयुक्त है। मरीज आपातकालीन विभाग से आईसीयू में जा सकते हैं, या गंभीर रूप से बीमार होने पर सामान्य अस्पताल के वार्ड से वहां जा सकते हैं। गंभीर देखभाल की आवश्यकता वाले रोगियों के उदाहरणों में वे लोग शामिल हैं जो बहुत आक्रामक सर्जरी से गुजरते हैं या जिनकी सर्जरी के बाद खराब परिणाम होते हैं, जो किसी दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल होते हैं, गंभीर संक्रमण वाले लोग, या वे लोग जिन्हें स्वयं सांस लेने में परेशानी होती है और जिन्हें वेंटिलेटर की आवश्यकता होती है।

कुछ सामान्य स्थितियां हैं जिनके लिए महत्वपूर्ण देखभाल की आवश्यकता होती है :

हृदय की समस्याएं

फेफड़ों की समस्या

अंग विफलता

मस्तिष्क आघात

रक्त संक्रमण (सेप्सिस)

दवा प्रतिरोधी संक्रमण

गंभीर चोट (कार दुर्घटना, जलन)

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें