DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कई मायने में महत्वपूर्ण रहा सीपीए का सम्मेलन : विजय

विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने पटना में आयोजित हुए भारत प्रक्षेत्र के छठे राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन को ऐतिहासिक बताया। सम्मेलन के समापन सत्र को संबोधित करते हुए उन्होंने लोकसभा तथा सीपीए भारत प्रक्षेत्र की अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को धन्यवाद दिया। कहा कि अगर आपने बिहार को यह मौका नहीं दिया होता तो हम ऐसी मेजबानी से वंचित रहते।

श्री चौधरी ने कहा कि गौरव की बात है कि इस सम्मेलन में शामिल होने के लिए भारत के सभी प्रदेशों से विधानसभा और विधान परिषद के अध्यक्ष तो आए ही, सीपीए की चेयरपर्सन, जेनरल सेक्रेट्री समेत दुनियाभर के प्रतिनिधि आए। उन्होंने कहा कि बिहार के सीपीए के सदस्यों ने भी अपनी सहभागिता से इस सम्मेलन को सफल बनाने में उत्साह का परिचय दिया। विधानसभा के अध्यक्ष ने कहा कि यह सम्मेलन कई मायने में महत्वपूर्ण रहा। काफी सार्थक चर्चा यहां पूर्ण सत्रों में हुई। विचार विनिमय में सभी डेलीगेटों ने न सिर्फ हिस्सा लिया, बल्कि अपने-अपने यहां हो रहे सफल लोकतांत्रिक प्रयोगों से भी अवगत कराया। इससे सभी का ज्ञानवर्द्धन हुआ। अच्छी बात यह रही कि लोगों ने अपनी भावना बहुत ही खुलकर रखी। मर्यादा का भी ख्याल रखा। जो कुछ हमारे महत्वपूर्ण विचार थे उन्हें सीपीए भारत प्रक्षेत्र की अध्यक्ष के हवाले कर दिया गया है, उनपर आगे विचार होगा।

श्री चौधरी ने कहा कि आपसी विचार-विनिमय को और कारगर बनाने के लिए सुमित्रा महाजन के नेतृत्व में एक एक्शन प्लान भी सम्मेलन के दौरान बनाया गया। वह लागू हो जाएगा तो राष्ट्रमंडल संसदीय संघ की गतिविधियां और भी बेहतर हो जाएंगी। श्री चौधरी ने कहा कि सम्मेलन में जो डेलीगेट आए हैं उनके मन में अबतक सुनी-सुनाई अवधारणा इस प्रदेश को लेकर थी। पर वे अब तीन-चार दिन खुद बिहार को अनुभव करके लौटेंगे। निश्चित रूप से बिहार के आतिथ्य से गदगद होकर जा रहे ये प्रतिनिधि बिहार की ब्रांडिंग अपने प्रदेश और अपने देश में करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CPA conference was important in many ways: Vijay