DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार के प्रयोग को अपनाएगा राष्ट्रमंडल संसदीय संघ

राष्ट्रमंडल संसदीय संघ (सीपीए) की शुक्रवार को हुई कार्यकारिणी की बैठक में विधायिका और सिविल सोसाइटी में अंतर को पाटने के लिए बिहार द्वारा की गई ढेर सारी गतिविधियों पर चर्चा हुई। बिहार में पिछले दिनों इस सिलसिले में हुई गतिविधियों की जानकारी विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने बैठक में रखी। इसे कार्यकारिणी समिति के सभी सदस्यों ने सराहा।

साथ ही यह भी आम राय बनी कि बिहार के इस प्रयोग को राष्ट्रमंडल संसदीय संघ न सिर्फ अपनाएगा, बल्कि आगे भी बढ़ाएगा। 
कार्यकारिणी समिति की बैठक में तय हुआ कि सीपीए के अगले सम्मेलन में विधायिका और सिविल सोसाइटी के बीच समझदारी बढ़ाने और बेहतर समन्वय पर मश्विरा होगा। साथ ही बिहार के इस अभिनव प्रयोग पर चर्चा का प्रस्ताव सीपीए मुख्यालय लंदन भेजा जाएगा। कार्यकारिणी समिति ने भरोसा जताया कि बिहार के इस अभिवन प्रयोग को सीपीए मेन बॉडी द्वारा भी अपनाए जाने की उम्मीद है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Commonwealth parliamentary association will follow the experiment of Bihar