DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेउर जेल में 26 महिलाएं और 15 पुरुष कैदी देंगे सूर्य को अर्घ्य

प्रतीकात्मक तस्वीर

छठी मइया कहिया सुनवै हमर पुकार... हाथ जोड़े कई छठ व्रती पटना के बेउर जेल से भी भगवान भास्कर को अर्घ्य देंगे। इस बार पटना बेउर जेल से 41 कैदी छठ व्रती होंगे। इसमें 26 महिलाएं और 15 पुरुष कैदी शामिल हैं। इसके लिए बेउर जेल प्रशासन के तैयारी चल रही है। जेल के अंदर बने घाट को सजाया जा रहा है। नहाय-खाय के दिन से कैदियों के लिए सुबह के अर्घ्य तक के लिए व्यवस्था की जा रही है।  ऐसे तो बेउर जेल में प्रारम्भ से ही छठ करने की परम्परा रही है लेकिन इस साल 41 कैदी भगवान भास्कर को अर्घ्य देंगे। 

ज्ञात हो कि कई कैदी पहली बार छठ कर रहे हैं। उन्हें विश्वास है कि छठ करने से उनकी गलतियों को भगवान भास्कर माफ करेंगे और जेल से वे जल्द ही रिहा हो जायेंगे। वहीं कई महिला कैदियों की मानें तो पहली बार जेल में वे छठ करेंगी। 

 कैदी व्रती को प्रसाद सामग्री दी जा रही
छठ महापर्व शुरू होने के पहले कैदी छठ व्रती को प्रसाद की सामग्री दी जा रही है। अभी तक जेल प्रशासन द्वारा ही सारे इंतजाम किये जाते थे। लेकिन पहली बार सामाजिक संस्था मां वैष्णो देवी सेवा समिति, पटना द्वारा जेल के छठ व्रतियों के लिए पूजा सामग्री की व्यवस्था की जा रही है। समिति के मुकेश हिसारिया ने बताया कि पहली बार जेल में कैदी छठ व्रतियों के लिए पूजन सामग्री देने का अवसर मिला है। शनिवार को नहाय-खाय के लिए जरूरत की चीजें कैदी व्रतियों को प्रदान की गयीं ।

हर साल कैदियों के लिए छठ व्रत का पूरा इंतजाम जेल के अंदर किया जाता है। घाट को सजाने का काम चल रहा है। नहाय-खाय के साथ खरना भी जेल में ही व्रती करते हैं। इस बार 41 कैदी छठ व्रत करेंगे। 
रूपम कुमार, जेल अधीक्षक, बेउर जेल 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Chhath Pooja 26 women and 15 male prisoners will be given arghya to Sun