DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूल के खेल कैलेंडर में एथलेक्टिस शामिल

बच्चे लांग जंप, हाई जंप और दौड़ का अभ्यास अच्छे से करें, इसके लिए स्कूल में एथलेटिक्स सिखाया जायेगा। जिला खेल कैलेंडर में एथलेटिक्स को शामिल किया गया है। इसके लिए एक पीरियड रखा जाना है। खेल कैलेंडर 31 जुलाई तक तैयार कर जिला शिक्षा कार्यालय के माध्यम से सभी स्कूलों को भेज दिया जायेगा। इसमें क्लास छठी से 12वीं तक के छात्र शामिल होंगे। ज्ञात हो कि मध्य से उच्च माध्यमिक विद्यालय में एथलेटिक्स को शामिल किया गया है। अंडर-14 और अंडर-19 छात्र इसमें शामिल होंगे। स्कूलों को सप्ताह में हर दिन एथलेटिक्स के लिए क्लास रखनी है। फिजिकल टीचर को इसमें लगाया जायेगा। बापू स्मारक के फिजिकल टीचर अभिषेक कुमार ने बताया कि एथलेटिक्स के लिए हर दिन अभ्यास जरूरी है। तभी बच्चे अच्छा कर पायेंगे। एथलेटिक्स को खेल की जननी कहा जाता है। कैलेंडर के अनुसार चले स्कूल 31 जुलाई तक कैलेंडर तैयार कर जिला शिक्षा कार्यालय के माध्यम से सारे स्कूलों को भेज दिया जायेगा, लेकिन स्कूलों में खेल का पीरियड नहीं होता है। खेल का पीरियड हो, इसके लिए डीईओ को प्रस्ताव भेजा गया है। इस संबंध में जिला खेल पदाधिकारी संजय कुमार ने बताया कि जब तक स्कूल में इसकी नियमित क्लास नहीं होगी, इसका फायदा नहीं मिलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Athletics included in sports calendar of school