ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार पटनाशर्मनाक : टॉयलेट गई महिला से रेप की कोशिश, विरोध करने पर ले ली जान

शर्मनाक : टॉयलेट गई महिला से रेप की कोशिश, विरोध करने पर ले ली जान

पटना के नौबतपुर में बुधवार को दिल्ली के निर्भया कांड जैसी दिल दहला देनेवाली घटना हुई। महिला ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया। नौबतपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में शौच को निकली महिला (35 वर्ष) से गांव...

Newswrapहिन्दुस्तान टीम,नौबतपुर पटना Thu, 12 Oct 2017 01:01 PM

शर्मनाक : टॉयलेट गई महिला से रेप की कोशिश, विरोध करने पर ले ली जान

शर्मनाक : टॉयलेट गई महिला से रेप की कोशिश, विरोध करने पर ले ली जान   1 / 2

पटना के नौबतपुर में बुधवार को दिल्ली के निर्भया कांड जैसी दिल दहला देनेवाली घटना हुई। महिला ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया। नौबतपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में शौच को निकली महिला (35 वर्ष) से गांव के ही एक युवक ने दुष्कर्म का प्रयास किया। विरोध करने पर महिला के प्राइवेट पार्ट में रॉड डाल दिया। घटना के बाद महिला को पहले नौबतपुर पीएचसी पर प्राथमिक उपचार के लिए लाया गया। वहां से पीएमसीएच रेफर किया गया। पीएमसीएच में प्रसूति रोग विभाग के ऑपरेशन टेबल पर उसने दम तोड़ दिया।

डॉक्टरों के अनुसार, अत्यधिक खून बहने के कारण इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई। महिला के चार छोटे बच्चे हैं। पति मजदूरी करता है। पुलिस ने आरोपित युवक धीरज कुमार (22 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया। 

पीएमसीएच के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग के डॉक्टरों का कहना है कि पीड़िता ओटी में महज 8 मिनट ही जिंदा रह पाई। पोस्टमार्टम से पता चलेगा कि उसके आंतरिक भाग में क्या क्षति हुई है।

नौबतपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में महिला शाम तीन बजे शौच के लिए गांव के बधार में गई थी। अकेला पाकर उसी गांव के धीरज ने पहले रेप की कोशिश की। विफल होने पर उसने बहशी तरीके से प्राइवेट पार्ट में लोहे का रॉड डाल दिया। उसके बाद वह मौके से फरार हो गया।

खून से लथपथ एवं दर्द से कराहती महिला किसी तरह घर पहुंची और परिजनों को घटना की जानकारी दी। परिजन तुरंत उसे थाना ले आए जहां से इलाज के लिए रेफरल अस्पताल भेजा गया। अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने महिला को पीएमसीएच रेफर कर दिया। 

अगली स्लाइड में पढ़ें पूरी जानकारी...

इस वजह से हुई महिला की मौत, हॉस्पिटल में हंगामा

इस वजह से हुई महिला की मौत, हॉस्पिटल में हंगामा2 / 2

मौसी ने किया था पालन-षोषण-

महिला को दो लड़की व दो लड़का है। सबसे बड़ी बेटी की उम्र 15 और सबसे छोटे बेटे की उम्र सात साल है। परिजनों ने बताया कि महिला के माता-पिता की मौत बचपन में ही हो गयी थी। उसे उसकी मौसी ने पाल-पोस कर बड़ा किया था। उसकी शादी भी करायी थी। मौसी को जैसे ही महिला की मौत की खबर मिली वह पीएमसीएच पहुंची। शव से लिपट कर दहाड़ मारकर रोने लगी। वहीं पति अपने छोटे बेटे को संभाल रहा था। उसकी आंखों से भी आंसू छलक रहे थे। फुलवारी डीएसपी रामाकांत प्रसाद ने बताया कि आरोपित धीरज पासवान पिता श्रीभगवान पासवान को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ में उसने अपना अपराध स्वीकार किया है। धीरज शादी-ब्याह में फोटोग्राफी करता है। उसके पिता मजदूरी करते हैं।

अस्पताल में हंगामा-

पीड़िता की मौत के बाद परिजन स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग के बाहर हंगामा करने लगे। उनका आरोप था कि डॉक्टरों ने समय पर उपचार नहीं किया जिससे मरीज की मौत हो गई। डॉक्टरों को बार-बार कहा जा रहा था कि मरीज गंभीर है इसीलिए तत्काल उसकी सर्जरी की जाए। डॉक्टर ओटी में जाने में देर किए जिससे मरीज की मौत हो गई। 

अधिक रक्तस्राव होने से महिला की हुई मौत-

पीएसमीएच अधीक्षक डा लखींद्र प्रसाद का कहना है कि नौबतपुर की पीड़िता को स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग के ऑपरेशन थियेटर में लाया गया था। उसे ओटी टेबल पर ऑपरेशन के लिए डॉक्टर रखे थे। इस बीच उसने दम तोड दिया। महिला को अधिक रक्तस्राव हुआ था जिससे उसकी मौत हो गई।