DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

NEET : बिहार में 47 केन्द्रों पर 21 हजार परीक्षार्थी होंगे शामिल

NEET : बिहार में 47 केन्द्रों पर 21 हजार परीक्षार्थी होंगे शामिल

नेशनल एलिजबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) 2018 की तैयारी अंतिम चरण में है। कदाचारमुक्त परीक्षा के लिए सीबीएसई अभी से तैयारी में लगा है। प्रदेशभर में पटना और गया में नीट का आयोजन होगा। कुल 47 केंद्रों पर 21 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसमें पटना में 32 परीक्षा केंद्रों पर 12 हजार और गया में 15 केंद्रों पर नौ हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। छह मई को परीक्षा होनी है।

सीबीएसई सूत्रों की मानें तो इस बार नीट के सभी केंद्रों पर खास इंतजाम रहेगा। सभी केंद्रों को टॉर्च खरीदने के लिए पैसे उपलब्घ करवाया जायेगा। हर केंद्र पर अभ्यर्थी के कान में टॉर्च जला कर देखा जायेगा कि कहीं अभ्यर्थियों ने कान में ब्लूट्रूथ तो नहीं लगा रखा है। जिन छात्रों के कान में इस तरह की कोई चीज पकड़ में आयेगी, उन्हें तुरंत परीक्षा से निष्कासित कर दिया जायेगा। सीबीएसई सूत्रों की मानें तो 20 अभ्यर्थी पर एक टार्च की व्यवस्था की गयी है। ज्ञात हो कि 2015 में एआईपीएमटी के दौरान कान में ब्लूट्रूथ व पेन में कैमरा लाकर अभ्यर्थी परीक्षा के दौरान पकड़ में आए थे। इसके बाद सीबीएसई ने 2016 और फिर 2017 में कान की पूरी जांच के लिए केंद्रों पर टॉर्च की व्यवस्था करना शुरू किया है।

परीक्षा केंद्र पर सुबह 7.30 बजे इंट्री शुरू होगी अंतिम प्रवेश 9.30 बजे तक होगा, परीक्षा 10 बजे से शुरू होगी कान की जांच के लिए टॉर्च होगा परीक्षा के लिए स्पेशल पेन दिये जायेंगे नीट के लिए पूरी तैयारी कर ली गयी है। बिहार में 47 केंद्रों पर नीट ली जायेगी। कदाचारमुक्त परीक्षा के लिए कई इंतजाम किये जा रहे हैं। पूरी जांच के बाद ही केंद्र पर अभ्यर्थियों को प्रवेश मिलेगा। -संयम भारद्वाज, ओएसडी, सीबीएसई नीट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:47 centres made for NEET in Patna and Gaya