DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निगम के नाले में गुम हो गया गुड्डु के घर का दीपक

इकलौते बेटे के नाले में समा जाने की सूचना पर गश खाकर गिर पड़ी रामकली

1 / 6इकलौते बेटे के नाले में समा जाने की सूचना पर गश खाकर गिर पड़ी रामकली

पटना: नाले में गिरे दीपक का 30 घंटे बाद भी पता नहीं, सर्च ऑपरेशन जारी

2 / 6पटना: नाले में गिरे दीपक का 30 घंटे बाद भी पता नहीं, सर्च ऑपरेशन जारी

नाले में गिरे दीपक की 18 घंटों से जारी है तलाश, अभी तक नहीं मिला कोई सुराग

3 / 6नाले में गिरे दीपक की 18 घंटों से जारी है तलाश, अभी तक नहीं मिला कोई सुराग

पटना: नाले में गिरा मासूम, तलाश जारी, नहीं मिला सुराग

4 / 6पटना: नाले में गिरा मासूम, तलाश जारी, नहीं मिला सुराग

पटना नगर निगम और जल पर्षद की लापरवाही का खामियाजा एक मासूम को भुगतना पड़ा।

5 / 6पटना नगर निगम और जल पर्षद की लापरवाही का खामियाजा एक मासूम को भुगतना पड़ा।

शनिवार दोपहर करीब डेढ़ बजे पुनाईचक संप हाउस के नाले में गिरकर दस वर्ष का दीपक लापता हो गया।

6 / 6शनिवार दोपहर करीब डेढ़ बजे पुनाईचक संप हाउस के नाले में गिरकर दस वर्ष का दीपक लापता हो गया।

PreviousNext

अपने 10 वर्षीय पुत्र दीपक के नाले में गिरने की सूचना राहुल ने जैसे ही उसकी मां रामकली देवी को दी, उसकी मां को जैसे काठ मार गया। अपने इकलौते बेटे के नाले में गिरने की सूचना पर मोहनपुर स्थित घर पर वह गश खाकर गिर पड़ी। दो मिनट बाद किसी तरह उठकर वह दहाड़ मारकर रोने लगी। गोद में लिए अपनी दोनों छोटी बेटियों सोनाक्षी और सुरभि को घर में ही छोड़ खाली पैर नाले की ओर दौड़ पड़ी। 

उसके पीछे-पीछे पड़ोस की महिलाएं और लड़कियां भी दौड़ते हुए पहुंची। बड़ी बेटी शोभा ने फोन पर अपने पिता गुड्डू को भी इसकी सूचना दी। गुड्डू अपनी दुकान वैसे ही छोड़कर बगल के दुकानदार के साथ मोटसाइकिल से घटनास्थल पर पहुंचा। उस समय तक लगभग सवा दो बजे गए थे। निगम का कोई पदाधिकारी-कर्मी घटनास्थल पर नहीं पहुंचा था। स्थानीय लोग संप हाउस के हॉज में उतरकर नाले में झांकने का प्रयास कर रहे थे। बाद में निगम के उपनगर आयुक्त विशाल आनंद, एनसीसी अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी शैलेश कुमार, सिटी मैनेजर कंचन, एनसीसी अंचल के मुख्य सफाई इंस्पेक्टर दल-बल के साथ पहुंचे। लेकिन बिना संसाधन के बड़ी देर तक राहत कार्य शुरू नहीं किया जा सका। 

 

 

निगम टीम द्वारा नाले के तीन मेनहोल की खुदाई कर उसमें कर्मी को उतारा लेकिन दीपक का कोई सुराग नहीं मिला। लगभग पौने चार बजे एसडीआरएफ और साढ़े चार बजे एनडीआरएफ को सूचना दी गई। डेढ़ घंटे तक अपने पुत्र का सुराग नहीं मिलता देख दीपक के माता-पिता नाले के पास ही गिर गए। पड़ोसियों ने उन्हें घर तक पहुंचाया। घर पहुंचने के बाद पूरे घर में कोहराम मच गया। गुड्डू उसकी पत्नी और बड़ी बहन शोभा का रो-रोकर बुरा हाल था। गुड्डू दुल्हिन बाजार के उलार (सूर्य मंदिर) के निकट अलीपुर गांव का रहनेवाला है। यहां पुनाईचक के मोहनपुर में 23 कोठी में किराए के एक घर में सपरिवार रहता है। 

नाले में गिरा मासूम, तलाश जारी, नहीं मिला सुराग- VIDEO

बड़ी बहन का हाल बुरा
दीपक अपनी बड़ी बहन शोभा के साथ ही स्कूल जाता था। पुनाईचक स्थित कन्या मध्य विद्यालय में दीपक कक्षा दो और शोभा कक्षा पांच में पढ़ते हैं। दीपक के नाले में गिरने की बात सुनकर शोभा का बुरा हाल है। वह बार-बार गिर रही थी। छाती पीटकर अपने भाई को बचाने की गुहार लगाती जा रही थी।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:10 years old Deepak dropped in drain