DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  नवादा  ›  शहरी क्षेत्र के वार्डों में भी पहुंचे टीका एक्सप्रेस

नवादाशहरी क्षेत्र के वार्डों में भी पहुंचे टीका एक्सप्रेस

हिन्दुस्तान टीम,नवादाPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:20 PM
शहरी क्षेत्र के वार्डों में भी पहुंचे टीका एक्सप्रेस

नवादा। हिन्दुस्तान संवाददाता

सदर अस्पताल स्थित डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में कोविड-19 संक्रमितों के इलाज को व्यवस्थाएं दुरुस्त होंगी। जिला स्वास्थ्य समिति इस कार्य के लिए प्रयासरत है। सिविल सर्जन डॉ. अखिलेश कुमार मोहन ने सोमवार को ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में सदर अस्पताल के चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। कई गंभीर संक्रमित, जिनके परिजन मरीजों को बेहतर इलाज के लिए उच्च चिकित्सा संस्थान में ले जाने को अक्षम थे। उनको बेहतर इलाज देकर स्वस्थ किया गया है। बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मरीज अब स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं।

सदर अस्पताल उपाधीक्षक कक्ष में सिविल सर्जन रोगी कल्याण समिति की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. एस.डी. अरैयर, नगर परिषद की मुख्य पार्षद पुनम कुमारी, समिति सदस्य सविनय कुमार, अनिल कुमार, शशि कुमार, शारदा राजवंशी, मंजू केसरी, बीना देवी, इंद्रजीत कुमार, डॉ. सलमान, सदर अस्पताल प्रबंधक शैलेश कुमार सिंह सहित अन्य उपस्थित थे। इस दौरान नवादा नगर परिषद की मुख्य पार्षद ने कहा कि नगर क्षेत्र के हरेक वार्ड के नागरिकों के लिए कोविड-19 वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कहा कि टीका एक्सप्रेस को अलग-अलग वार्डों में भेजा जाएं, जिससे नागरिकों को घर बैठे कोरोना से बचाव का टीका लेने की सुविधा प्राप्त हो। मौके पर ही समिति सदस्यों ने सदर अस्पताल परिसर में बरसात के दौरान पानी जमा ना हो, इसके लिए मुख्य पार्षद को टंकी की सफाई को आवेदन दिया। महिला वार्ड में प्रसूति व परिजनों की सुविधा के लिए कई मांग रखी गई। इधर, एसएनसीयू के पास अधूरे भवन को पूरा कराने की बात भी आयी। साथ ही अस्पताल परिसर के कई खाली स्थलों पर फूल-पत्ती लगाने और सौन्दर्यीकरण को लेकर भी निर्णय लिया गया है। ओपीडी रजिस्ट्रेशन के पास शेडिंग, स्टोर से इमरजेंसी जाने वाली गली में सोलिंग, डायलिसिस सेंटर में कुछ परिवर्तन कराने की मांग की गई। सदस्यों की बातों पर गौर किया गया। सांसद और विधायक फंड से सदर अस्पताल में बेहतर व्यवस्था उपलब्ध कराने को लेकर भी चर्चा चली। सदस्यों ने पारित निर्णयों को लागू कराने की मांग की है।

संबंधित खबरें