ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार नवादाविशनपुर से अगवा युवक का शव कोलवा पहाड़ी से बरामद

विशनपुर से अगवा युवक का शव कोलवा पहाड़ी से बरामद

कौआकोल के विशनपुर गांव से अगवा युवक का शव मंगलवार की शाम करीब 06 किलोमीटर दूर जमुई जिले की सीमा से सटे थाना क्षेत्र के गांधीधाम के कोलवा पहाड़ी स्थित जंगली इलाके से बरामद किया...

विशनपुर से अगवा युवक का शव कोलवा पहाड़ी से बरामद
हिन्दुस्तान टीम,नवादाWed, 19 Jun 2024 06:00 PM
ऐप पर पढ़ें

नवादा/कौआकोल, हिप्र/एसं
कौआकोल के विशनपुर गांव से अगवा युवक का शव मंगलवार की शाम करीब 06 किलोमीटर दूर जमुई जिले की सीमा से सटे थाना क्षेत्र के गांधीधाम के कोलवा पहाड़ी स्थित जंगली इलाके से बरामद किया गया। पुलिस की सूचना पर परिजनों ने शव की पहचान की। शव कई दिनों पूर्व का प्रतीत होता है और बिगड़ने लगा था। परिजनों को आशंका है कि मनीष की हत्या कर शव जंगल में फेंक दिया गया। मृतक मो. सरोवर (32) कौआकोल थाना क्षेत्र के मंझिला पंचायत के विशनपुर गांव के स्व. जमाल का बेटा था। वह पिछले 09 जून से अपने घर विशनपुर से लापता था। पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के लिए मनीष मांझी नामक संदिग्ध युवक को थाने लाया है। मामले की जांच के लिए एसपी के निर्देश पर पकरीबरावां एसडीपीओ महेश चौधरी के नेतृत्व में कौआकोल थानाध्यक्ष दीपक कुमार व अन्य के साथ एक टीम का गठन किया गया था। टीम ने तकनीकी जांच व अन्य साक्ष्यों की मदद से शव बरामद किया। पुलिस ने शव का अन्वीक्षण रिपोर्ट तैयार कर बॉडी पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

15 जून को दर्ज हुई थी प्राथमिकी

मो. सरवर की पत्नी नुरैशा प्रवीण द्वारा इस मामले में कौआकोल थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी थी। 15 जून को दर्ज प्राथमिकी में नुरैशा ने गांव के ही काशी मांझी के बेटे मनीष मांझी पर उसके पति का अपहरण किये जाने की आशंका जतायी थी। पत्नी का आरोप था कि उसका पति 09 जून को अपने घर से बाजार जाने के लिए निकला और गांव के ही मनीष मांझी के साथ बड़राजी गया। परंतु घर लौट कर नहीं आया। मो. सरवर के नहीं लौटने पर जब मनीष से पूछताछ की गयी तो उसने हर बार अलग-अलग बात कही। उसके विरोधाभाषी जवाब के कारण परिजनों का शक और गहरा हो गया। सरवर का मोबाइल भी उसी दिन से बंद बता रहा था।

केरल से बकरीद मनाने आया था

परिजनों के मुताबिक मो. सरवर इसी माह 04 जून को बकरीद मनाने के लिए अपने घर लौटा था। परंतु न तो उसने बकरीद मनाई और न ही उसके घर में बकरीद मनी। सरवर केरल में एक प्राइवेट कम्पनी में काम करता था। परिजनों का आरोप है कि सरवर फोन से नेट बैंकिंग और यूपीआई का प्रयोग करता था। उसके अकाउंट में लाखों रुपये होते थे। इस कारण से भी उसकी हत्या की आशंका जतायी जा रही है। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। पत्नी समेत सभी लोगों का रो-रोकर बुरा हाल था। आसपास के लोग उन्हें सांत्वना देने की कोशिश में जुटे थे।

कोलवा पहाड़ी पर मना था पिकनिक!

बताया जा रहा है कि 09 जून को मनीष व मो. सरवर दोनों साथ में गांधीधाम के कोलवा पहाड़ी गये व वहां झरने के समीप पिकनिक मनाया गया। इस दौरान वहां खाना-पीना चला। इसी बीच वहीं पर कुछ विवाद हुआ। फिलहाल पुलिस की पूछताछ जारी है। कहानी के आगे की कड़ियों को जोड़ने की कवायद चल रही है।

वर्जन

मंगलवार की शाम कोलवा पहाड़ी से युवक का शव बरामद किया गया है। शव की स्थिति खराब हो रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत का कारण पता लग सकेगा। पूछताछ के लिए संदिग्ध युवक को लाया गया है। अनुसंधान जारी है। जल्द ही खुलासा होगा। --------- महेश चौधरी, एसडीपीओ पकरीबरावां।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।