ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार नवादानवादा शहर को जाम की समस्या से मिलेगी मुक्ति

नवादा शहर को जाम की समस्या से मिलेगी मुक्ति

नवादा शहर को जाम की समस्या से मुक्ति दिलाने को एक बार फिर से कवायद शुरु हुई है। नवादा जिला प्रशासन नए साल में नई तकनीकी का प्रयोग करके यातायात संभालने की पुरजोर कोशिश में जुटेगा। इस कार्य में नए एसपी...

नवादा शहर को जाम की समस्या से मिलेगी मुक्ति
हिन्दुस्तान टीम,नवादाSun, 08 Jan 2023 02:50 PM
ऐप पर पढ़ें

नवादा, हिन्दुस्तान संवाददाता।

नवादा शहर को जाम की समस्या से मुक्ति दिलाने को एक बार फिर से कवायद शुरु हुई है। नवादा जिला प्रशासन नए साल में नई तकनीकी का प्रयोग करके यातायात संभालने की पुरजोर कोशिश में जुटेगा। इस कार्य में नए एसपी अम्ब्रीश राहुल की भी महती भूमिका दिखेगी। फिलहाल, यातायात व्यवस्था संभालने की जिम्मेवारी नए कंधों पर सौंपी गई है। नवादा प्रशासन द्वारा शहर के दो मार्गों पर ट्रैफिक को सुचारू करने की पहल हो रही है। इसके लिए पूर्व से तैयारी चल रही थी, सोमवार को इसे अमलीजामा पहनाया जायेगा। नई व्यवस्था के तहत शहर के पुरानी खुरी पुल, लाल चौक, मेन रोड और प्रजातंत्र चौक तक एकतरफा यातायात का परिचालन होगा। इसके विपरीत विजय बाजार, ऑफिसर्स कॉलोनी रोड, फूल मंडी, काली चौक, कलाली रोड और नई खुरी पुल पर ट्रैफिक का वन-वे सिस्टम लागू रहेगा। यह यातायात व्यवस्था लागू रहे, इसको लेकर प्रजातंत्र चौक से लेकर पुरानी खुरी पुल तक बैरिकेडिंग ट्रॉली की मदद से डिवाईडर बनाया जायेगा। जिससे एकतरफा यातायात का सख्ती से पालन कराया जा सके। हाल में रोटरी क्लब नवादा ने जिला प्रशासन को 18 बैरिकेडिंग ट्रॉली सौंपा है। अब देखना ये है कि पूर्व निर्मित ट्रैफिक सिस्टम की तरह यह व्यवस्था भी ध्वस्त हो जाती है, या ट्रैफिक पुलिस इसे लागू कराने में सफल हो पाती हैं?

कड़ाई से व्यवस्था लागू कराने की है तैयारी

नए ट्रैफिक प्लान के तहत मेन रोड में बैरिकेडिंग ट्रॉलियों में रस्सी लगाकर प्रजातंत्र चौक से लाल चौक होते हुए पुरानी खुरी पुल तक डिवाईडर बनाया जायेगा। जिससे कोई भी वाहन यू-टर्न नहीं ले सके। इससे मेन रोड में जाने वाले सारे वाहन एकतरफ ही जा सकेंगे। कोई भी वाहन मेन रोड से मुस्लिम रोड, पुरानी बाजार और सब्जी मंडी में प्रवेश कर सकेगा। लेकिन इन मार्गों से आनेवाले वाहन मेन रोड में प्रवेश नहीं कर सकेंगे। बैरिकेडिंग की वजह से ये मेन रोड होकर पुरानी खुरी पुल की तरफ नहीं जा सकेंगे। इधर विजय बाजार, ऑफिसर्स कॉलोनी, फूल मंडी, काली चौक, कलाला रोड होते नई खुरी पुल से होकर वाहनों को गया रोड में प्रवेश मिलेगा। इसके विपरीत वाहनों के परिचालन पर रोक रहेगी। प्रशासन इन दोनों मार्गों पर एकतरफा यातायात व्यवस्था लागू करके जाम से निजात पाने की कोशिश करेगा। फिलहाल, लाख कोशिश के बाद भी इन मार्गों पर दोनों तरफ से वाहन चालक प्रवेश कर जाते हैं, जिससे जाम लगती है।

कई मार्गों पर वाहनों का प्रवेश हो जायेगा प्रतिबंधित

एकतरफा ट्रैफिक व्यवस्था शुरु होने के साथ शहर के कई मार्गों पर वाहनों का प्रवेश स्वतः प्रतिबंधित हो जायेगा। नवादा शहर में गोंदापुर की तरफ से नारदीगंज रोड होते हुए गढ़ पर से सब्जी मंडी में प्रवेश वर्जित हो जायेगा। बाबा का ढाबा या गोन्दापुर मार्ग से प्रवेश करनेवाले वाहनों को बड़ी दरगाह होते हुए गया रोड से पुरानी खुरी पुल के रास्ते शहर में प्रवेश मिलेगा। मुस्लिम रोड, पुरानी बाजार और सब्जी मंडी से वाहन मेन रोड में प्रवेश करके पुरानी खुरी पुल की ओर नहीं जा सकेंगे। जबकि मेन रोड से सोनार पट्टी में भी वाहनों का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। कोई भी वाहन प्रजातंत्र चौक से होकर अस्पताल रोड, इंदिरा चौक, स्टेशन रोड, पम्पुकल चौक होते हुए ही सोनार पट्टी में प्रवेश कर सकेंगे।

कई वैकल्पिक मार्ग तैयार करने में जुटा है जिला प्रशासन

जिला प्रशासन नवादा नगर परिषद क्षेत्र में यातायात सुचारू करने को लेकर कई वैकल्पिक मार्ग तैयार करने में जुटा है। फिलहाल, पार नवादा क्षेत्र से कन्हाई स्कूल की तरफ जाने के लिए मिर्जापुर होते हुए एक वैकल्पिक मार्ग चालू है, जो रजौली बस स्टैंड के पास से पूरब की ओर जानेवाली सड़क से रेलवे ब्रीज के नीचे से होकर मिर्जापुर में निकलता है और रेलवे कॉलोनी में पीसीसी पथ से होकर तीन नंबर रेलवे गुमटी के पास निकल जाता है। पिछले साल छठ पूजा के अवसर पर नगर परिषद के पूर्व मुख्य पार्षद संजय कुमार द्वारा पम्पुकल रोड से रेलवे पटरी के किनारे से एक वैकल्पिक मार्ग निकाला गया, जिसे दोपहिया वाहन चालक धड़ल्ले से प्रयोग में ला रहे हैं।

पुरानी खुरी पुल के नीचे दशकों पुराना मार्ग निर्माणाधीन

शहर के पार नवादा स्थित रजौली बस स्टैंड के पूर्वी हिस्से में स्थित जिला परिषद की जमीन के पास से खुरी नदी होते हुए अम्बेदकर छात्रावास तक एक कच्ची सड़क हुआ करती थी, जो नदी में पानी नहीं रहने के दौरान नागरिकों द्वारा प्रयोग में आती थी। वर्षों पूर्व इस मार्ग के बगल में खुरी नदी पर बड़ा पुल बना जाने के बाद परित्यक्त कर दिया गया। फिलहाल, जिला प्रशासन इस मार्ग को फिर से बनाने में जुटा है। इस रास्ते के बन जाने से शहरवासियों को एक वैकल्पिक मार्ग मिलेगा, जिससे होकर लोग सोनार पट्टी और पम्पुकल रोड में निकल सकेंगे। इस मार्ग के बनने के बाद पुरानी खुरी पुल पर जमे अतिक्रमणकारियों को भी सख्ती से पुल के नीचे शिफ्ट किया जायेगा। जिससे काफी हद तक जाम से मुक्ति मिलेगी। इस वैकल्पिक मार्ग के बनने से पुल के नीचे एक नया बाजार बसाने की कवायद होगी।

सदर अस्पताल के बाहर रहे दुकानदार भी होंगे शिफ्ट

अतिक्रमण और जाम की समस्या से मुक्ति दिलाने में जिला प्रशासन सख्त रवैया अपनायेगा। इसके लिए तैयारी की जा रही है। अतिक्रमण हटाओ अभियान में भारी मात्रा में पुलिस बल और मजिस्ट्रेट प्रतिनियुक्त किये जा रहे हैं। इधर, मिशन 60 के तहत सदर अस्पताल के बाहर जमे फुटपाथी दुकानदारों को भी शिफ्ट कराने की तैयारी चल रही है। पूर्व में यहां के दुकानदारों ने डीएम उदिता सिंह से मिलकर 25 दिसम्बर तक का समय मांगा था, जो करीब 10 दिन पहले समाप्त हो गया। दिसम्बर के अंतिम दिनों में अस्पताल पहुंची डीएम ने दुकानदारों को स्थल खाली करने का आदेश दिया था, जो अबतक पूरा नहीं हो सका है। ऐसे में प्रशासन सख्ती के साथ इन्हें नए जगहों पर शिफ्ट कराने की जुगत में है। देखा जाएं, तो जिला प्रशासन ने अपने तरफ से पुरजोर तैयारी की है, अब यह योजना धरातल पर किस कदर उतर पाती है, यह आनेवाला समय ही निर्धारित करेगा।

वर्जन

शहर में ट्रैफिक व्यवस्था सुचारू कराने को लेकर प्रशासन तत्पर है। जिला पदाधिकारी के आदेश के आलोक में तैयारियां की गई है। रोटरी क्लब नवादा द्वारा 18 बैरिकेडिंग ट्रॉली उपलब्ध कराया गया है, जिसे मेन रोड में डिवाईडर के तरह प्रयोग में लाया जायेगा। सोमवार से ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू कराने पर जोर रहेगा। प्रशासन अतिक्रमण कारियों को भी हटाने का कार्य करेगा। इसके लिए पर्याप्त संख्या में मजिस्ट्रेट और पुलिस बल की मांग की गई है। -उमेश कुमार भारती, नवादा सदर एसडीएम।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें