DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  नवादा  ›  बारिश से नवादा शहर हुआ पानी-पानी
नवादा

बारिश से नवादा शहर हुआ पानी-पानी

हिन्दुस्तान टीम,नवादाPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 05:00 PM
बारिश से नवादा शहर हुआ पानी-पानी

नवादा। नगर संवाददाता

मॉनसून की बारिश ने शहर की सूरत ही बिगाड़ दी है। बारिश परेशानी का सबब बनता जा रहा है। शहर के मुख्य मार्गों पर चलने लायक खाली जगह नहीं बचा है। लोग गंदे पानी से हो कर ही चलने को बाध्य हैं। शहर के प्रजातंत्र चौक से जुड़े विजय बाजार और कचहरी रोड की हालत एकदम खस्ता हो कर रह गयी है। सामान्य दिनों में ही इस रोड पर नाले का पानी जमा रहता है। समझा जा सकता है कि बारिश का पानी और नाले का पानी मिल कर क्या सितम ढा रहे होंगे। मेन रोड, अस्पताल रोड, स्टेशन रोड आदि का हाल तो ऐसा है कि दुकानों और घरों तक पानी घुसने लगे हैं। कलेक्ट्रेट के समीप और अनुमंडल कार्यालय परिसर समेत कई कार्यालय परिसर भी जलमग्न दिख रहे हैं। यहां आना-जाना दूभर हो कर रह गया है।

शहर के नए मोहल्लों में है भारी संकट, घर से निकलना हुआ मुहाल

शहर के नए मोहल्लों में और भी भारी संकट है। सड़कें आधी-अधूरी अथवा जीर्ण-शीर्ण और कच्चे हाल में हैं। घुटने तक पानी भरे गड्ढे आने-जाने वाले लोगों के सिक्स्थ सेंस की परीक्षा लेते से दिख रहे हैं। कब कौन सा गड्ढा आने-जाने वालों को अपनी चपेट में ले ले और बुरी तरह से चोटिल कर दे, यह समझना मुश्किल है। भारी जलजमाव और नए मोहल्ले में बड़े पैमाने पर जारी निर्माण कार्य की यत्र-तत्र बिखरी पड़ी सामग्रियां अलग ही परेशानी का कारण बनी हुई हैं। अभी हाल यह है कि घर से निकलना मुहाल हो कर रह गया है। न्यू वीआईपी कॉलोनी, राजेंद्र नगर, नाला रोड गोणावां, न्यू पोस्टमार्टम रोड समेत इस्लामनगर और वार्ड 32 के तहत अंसार नगर का हाल बेहद बुरा हो कर रह गया है। अभी मॉनसून अलगे दो से तीन दिनों तक अपनी रंगत दिखाने के मूड में है। ऐसे में इन परेशानियों को कोई समाधान निकलता नहीं दिख रहा है।

मंगलवार को जिले में 63.38 एमएम हुई मॉनसून वाली बारिश, किसान खुश

मॉनसून जिले में जम कर बरस रहा है। मंगलवार को जिले में 63.38 एमएम मॉनसून वाली बारिश हुई। जाहिर है किसानों के चेहरे की खुशी गाढ़ी होती जा रही है। मंगलवार को दिन भर बदली छायी रही और लगातार कहीं बूंदाबांदी तो कहीं हल्की व मध्यम बारिश होती रही। मेघगर्जन तथा बिजली चमकने की घटना भी घटित होती रही। इस पूर्वानुमान के कारण जिले मंगलवार को भी येलो अलर्ट जोन में था। बारिश ने दिन भर मौसम को खुशगवार बनाए रखा। आर्द्रता की अधिकता के बावजूद धूप नहीं निकलने से गर्मी ने परेशान नहीं किया। मौसम पूर्वानुमान के अनुसार बुधवार को ऑरेंज अलर्ट जोन में रखा गया है। जिले वासियों को सचेत रहने के लिए कहा गया है। बुधवार को जिले के अधिकाशं स्थानों में बारिश होगी। जबकि आने वाले अगले तीन दिनों में येलो अलर्ट जारी रहेगा। मंगलवार की तरह ही मौसम रहने का अनुमान है। अधिकतम और न्यूनतम तापमान अभी मंगलवार की तरह ही स्थिर रहेगा।

जिले भर में बारिश ने लोगों को अघाया

मॉनसून की बारिश ने जिले के लोगों को अघा दिया है। अकबरपुर प्रखंड में मंगलवार को 19.2 एमएम, गोविंदपुर में13.6, हिसुआ में 12.4, काशीचक में 12.6, कौआकोल में 6.4, मेसकौर में 63.4, नारदीगंज में 14.2, नरहट में 04, नवादा सदर में 14.6, पकरीबरावां में 4.2, रजौली में 44.6, रोह में 12.8, सिरदला में 38 तथा वारिसलीगंज प्रखंड में 4.6 एमएम बारिश रिकॉड की गयी। जून माह में प्रतिदिन के सामान्य औसत से यह 14 गुणा अधिक बारिश रही।

बिचड़ा आच्छादन शुरू, 87 हेक्टेयर में पहले दिन हुआ आच्छादन

अच्छी बारिश ने किसानों को गति दे दी है। बिचड़ा आच्छादन का कार्य अब शुरू हो गया है। पहले दिन मंगलवार को लक्ष्य का 1.14 फीसदी बिचड़ा आच्छादन हुआ। जिला कृषि विभाग से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक नवादा प्रखंड में 770 हेक्टेयर के लक्ष्य के विरुद्ध 10 हेक्टेयर, वारिसलीगंज में 670 में से 09, काशीचक में 270 में से 04, कौआकोल में 610 में से 05, पकरीबरावां में 670 में से 06, रोह में 570 में से 06, अकबरपुर में 830 में से 11, गोविंदपुर में 350 में से 05, रजौली में 650 में से 06, सिरदला में 610 में से 06, मेसकौर में 380 में से 04, नरहट में 380 में से 04, हिसुआ में 400 में से 05 और नारदीगंज प्रखंड में 440 हेक्टेयर के लक्ष्य में से 06 हेक्टेयर में बिचड़ा आच्छादन किया गया। इस प्रकार जिले के कुल लक्ष्य 7600 में से 87 हेक्टेयर में बिचड़ा आच्छादन किया जा सका। आने वाले दिनों में यह गति और भी बढ़ेगी। इधर, जिले में मक्का आच्छादन के लक्ष्य 4500 हेक्टेयर में से 27 हेक्टेयर यानी 0.60 फीसदी आच्छादन पहले दिन मंगलवार को किया गया।

संबंधित खबरें