DA Image
19 सितम्बर, 2020|12:21|IST

अगली स्टोरी

स्वच्छ एवं पारदर्शी माहौल में कराए जाएंगे चुनाव

default image

बिहार विधानसभा चुनाव स्वच्छ एवं पारदर्शी माहौल में कराए जाएंगे। इस दौरान कोविड-19 से बचाव को लेकर एहतियात भी बरत जाएगा। डीएम यश पाल मीणा ने मंगलवार को डीआरडीए सभागार में ये बातें कहीं। सभागार में चुनावों के दौरान ईवीएम और वीवीपैट के संचालन को प्रशिक्षण शुरु हुआ है। डीएम ने दीप जलाकर प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। डीएम ने बताया कि आगामी विधान सभा चुनाव में एम-03 इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) एवं वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) का प्रयोग होगा। उन्होंने कहा कि इस तरह के ईवीएम पूर्व से अधिक उन्नत तकनीक के हैं, ऐसे में इसके संचालन को खास तौर पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। साथ ही वोटिंग के दौरान मशीन में किसी तरह की गड़बड़ी आने पर सुधार को लेकर भी प्रशिक्षुओं को बताया जा रहा है।

कोविड-19 में एहतियात बरतने पर रहेगा जोर

कोविड-19 महामारी के दौरान चुनाव कराए जा रहे हैं, इसको लेकर जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला पदाधिकारी ने प्रशिक्षुओं और प्रशिक्षकों को निर्देश दिया। कहा कि कोरोना संकटकाल में मास्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, सैनेटाइजर का प्रयोग निश्चित रूप से करें। साथ ही आम मतदाताओं को भी कोरोना से सुरक्षा बरतने को जागरूक करें। उन्होंने कहा कि सभी ईवीएम एवं वीवीपैट की सही तरीके से जानकारी प्राप्त करें। किसी प्रकार की परेशानी हो, तो प्रशिक्षण के दौरान ही समस्या का समाधान कर लें। इस दौरान कुछ प्रशिक्षुओं ने मास्टर ट्रेनर से वीवीपैट एवं एम-थ्री ईवीएम के बारे में पूछा, जिसका जवाब मास्टर ट्रेनर ने दिया। इस दौरान डीडीसी वैभव चौधरी, प्रषिक्षण कोषांग के नोडल पदाधिकारी विमल कुमार सिंह, डीईओ संजय कुमार चौधरी, डीपीओ मो. जमाल मुस्तफा, वरीय उपसमाहर्ता अमु आमला, डीपीआरओ गुप्तेश्वर कुमार, मास्टर ट्रेनर अलखदेव यादव सहित अन्य उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Elections will be held in a clean and transparent environment