Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार नवादानवादा रेलवे स्टेशन पर अनाउंसमेंट और पूछताछ काउंटर बंद

नवादा रेलवे स्टेशन पर अनाउंसमेंट और पूछताछ काउंटर बंद

हिन्दुस्तान टीम,नवादाNewswrap
Tue, 07 Dec 2021 04:50 PM
नवादा रेलवे स्टेशन पर अनाउंसमेंट और पूछताछ काउंटर बंद

नवादा। नगर संवाददाता

नवादा स्टेशन पर अनाउंसमेंट और पूछताछ काउंटर बंद कर दिया गया है। इस कारण ट्रेन के आने-जाने का न तो समय पता चल पा रहा है और न ही यात्रियों को कोई सूचना मिल पा रही है। यह फजीहत पहली दिसम्बर से यात्रियों को उठानी पड़ रही है। यात्रियों को पूछताछ काउंटर बंद मिलता है तो वह सीधे स्टेशन मास्टर से पूछने पहुंच जाते हैं। इस कारण अनावश्यक रूप से स्टेशन मास्टर कक्ष के समीप भीड़ लगी रहती है। यह स्थिति सुरक्षा के दृष्टि से भी सरासर गलत है। स्टेशन मास्टर ट्रेनों का नियंत्रण संभालें या आम जनों को ट्रेन की जानकारी दें, यह संकट उठ खड़ा हुआ है।

आउटसोर्सिंग से चलाया जा रहा काम

अब तक पूछताछ काउंटर और अनाउंसमेंट का कार्य आउटसोर्सिंग के जरिए चलाया जा रहा था। रेलवे ने इस व्यवस्था को अब समाप्त कर दिया है। कहा जा रहा है कि समुचित राशि के अभाव में यह व्यवस्था बंद करने का निर्णय लिया गया है। ऐसे में इस जरूरी सेवा का भार भी अब रेलवे को ही संभालना पड़ेगा। हालांकि इस दिशा में अब तक कुछ भी दिशा-निर्देश नहीं मिल पाने के कारण तत्काल कुछ भी वैकल्पिक व्यवस्था कर पाना संभव नहीं हो पा रहा है। स्टेशन मास्टर संघ की बैठक रविवार को नवादा में की गयी थी जिसमें इस संबंध में जिम्मा उठाने संबंधी चर्चा चली और विकल्पों पर भी बात हुई लेकिन अब तक कुछ भी सकारात्मक नहीं हो पाने के कारण आम यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ रही है।

नवादा और शेखपुरा स्टेशन पर उपलब्ध थी यह सेवा

नवादा के स्टेशन प्रबंधक अवधेश कुमार सुमन ने बताया कि किऊल-गया रेलखंड के तहत नवादा और शेखपुरा स्टेशन पर यह सेवा उपलब्ध थी। पिछले एक दिसम्बर से यह बंद पड़ी है। रेलवे के वरीय अधिकारियों के निर्देश के बाद ही इस दिशा में कुछ भी कर पाना संभव हो सकेगा। फिलहाल यात्रियों की जिज्ञासा का समाधान जैसे-तैसे कर संभाला जा रहा है लेकिन इस व्यवस्था की परेशानियों ने अभी से संकट खड़ा करना शुरू कर दिया है। अवधेश कुमार सुमन बताते हैं कि सबसे जरूरी सुरक्षा का मसला है। यह व्यवस्था सुचारू रूप से जारी रहनी ही चाहिए।

epaper

संबंधित खबरें