DA Image
5 दिसंबर, 2020|2:20|IST

अगली स्टोरी

माता का नेत्रपट खुलने के साथ खोइछा भरने लगी महिलाएं

default image

नवरात्र की सप्तमी को माता के नेत्रपट खुलने के साथ ही मां दुर्गा की खोइछा भराई शुरू हो गयी। रमना देवी मंदिर, सर्वेश्वरनाथ सह महामाया स्थान समेत कई मंदिरों में नेत्रपट खुलने के साथ ही महिलाओं ने मां दुर्गा के नौ स्वरूपों का ध्यान किया। इसके बाद लाल कपड़ा या चुनरी बिछाकर बताशा, पूरी, चना, मीठा, मिठाई व फलों से मां की खोइछा भरने की रस्म की। मां को सिन्दूर व शृंगार सामग्री अर्पण किया गया।

रमना स्थित देवी मंदिर के पुजारी अमित तिवारी, गोला रोड दुर्गा पूजा समिति के उपाध्यक्ष विनोद कुमार, श्रीश्री 108 जगदंबा माई स्थान के आचार्य भूपेन्द्र तत्वदर्शी, महामाया स्थान के महंथ संजय ओझा व रामदयालु नगर मनोकामना मंदिर के पुजारी पं. रमेश मिश्र ने बताया कि परिसर में टेबूल पर खोइछा भरने की व्यवस्था की गयी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Women started filling up with the opening of the mother 39 s screen