Why Teachers will do self nomination for Prize - राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार को इस बार क्यों सेल्फ नॉमिनेशन करेंगे शिक्षक DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार को इस बार क्यों सेल्फ नॉमिनेशन करेंगे शिक्षक

राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार-2018 के लिए इस बार शिक्षक सेल्फ नॉमिनेशन करेंगे। इसके लिए रजिस्ट्रेशन और आवेदन करने की तिथि सरकार ने 15 जून तक निर्धारित की है। शिक्षकों के ऑनलाइन आवेदन को डीएससी यानी डिस्ट्रिक्ट सेलेक्शन कमेटी स्टेट कमेटी को भेजेगी। इससे पहले डीएससी के सदस्य शिक्षकों के आवेदन का भौतिक जांच करेंगे। वे देखेंगे कि शिक्षक ने जो जानकारी दी वह सही है या नहीं। वे इस पुरस्कार के लिए निर्धारित मापदंड को पूरा करते हैं या नहीं। इस पुरस्कार के लिए पिछली बार जिले से एक भी शिक्षक का नाम नहीं गया था।

50 फीसदी महिला शिक्षक को किया जाएगा चिह्नित:

प्रधान सचिव ने निर्देश दिया है कि इस पुरस्कार के लिए 50 फीसदी महिला शिक्षकों को चिन्हित किया जाए। इसमें नियोजित शिक्षक भी शामिल हैं। जिला चयन कमेटी में तीन सदस्य हैं। इसमें डीईओ के साथ राज्य स्तर के एक अधिकारी और डीएम द्वारा चयनित एक प्रतिनिधि शामिल रहेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Why Teachers will do self nomination for Prize